मुस्लेमीन,रामपुर:सपासांसदआजमखांकीजौहरयूनिवर्सिटीकोचंदादेनेवालेभीअबईडी(प्रवर्तननिदेशालय)केशिकंजेमेंहैं।इनकीभीजांचहोरहीहै।ईडीपतालगारहीहैकिइनकीइतनीहैसियतहैयानहीं,जितनाउन्होंनेचंदादियाहै।जांचमेंदोषीपाएजानेपरइनकेखिलाफभीकार्रवाईहोसकतीहै।इससेचंदादेनेवालोंकीधड़कनेतेजहोगईहैं।

मुहम्मदअलीजौहरयूनिवर्सिटीआजमखांकाड्रीमप्रोजेक्टहै।वहइसकेसंस्थापकहोनेकेसाथहीकुलाधिपतिभीहैं।इसयूनिवर्सिटीकीजमीनोंकोलेकरशुरूसेहीविवादहै।पिछलेसालजुलाईमेंउनकेखिलाफजमीनेंकब्जानेके30मुकदमेंदर्जहुएथे।प्रशासननेउन्हेंभूमाफियाघोषितकरदिया।तबईडीनेभीउनकेखिलाफकेसदर्जकरलियाथा।अबजांचपड़तालकररहीहै।सपाशासनकालमेंजौहरयूनिवर्सिटीमेंआलीशानइमारतेंबनवाईगईं।उन्होंनेयहकामचंदेकेपैसेसेकियाहै।अबइसचंदेकीभीजांचचलरहीहै।ईडीपतालगारहीहैकियहचंदाकिसनेदियाहै।यहकालाधनतोनहींहै।दरअसलचंदादेनेवालोंमेंकईऐसेलोगभीबताएजारहेहैं,जिनकीहैसियतइतनीनहींहै,जितनाउन्होंनेचंदादियाहै।इससंबंधमेंभाजपालघुउद्योगप्रकोष्ठकेपश्चिमीउत्तरप्रदेशकेसंयोजकआकाशसक्सेनानेकेंद्रीयगृहमंत्रालयसेशिकायतकीथी।उनकाकहनाहैकिकईलोगोंनेपांचलाखरुपयेसेज्यादाचंदादियाहै,जबकिउनकीइतनीहैसियतनहींहै।उन्होंनेकभीआयकररिटर्नभीदाखिलनहींकियाहै।विदेशोंसेभीयूनिवर्सिटीकेलिएपैसाआयाहै।यूनिवर्सिटीकोसाढ़ेसातहजारलोगोंनेचंदादियाहै।उन्होंनेइनसबकीसूचीप्राप्तकरनेकेसाथहीऔरभीअहमसाक्ष्यजुटाएहैं।ईडीकोभीउपलब्धकराएहैं।ईडीअबइनसाक्ष्योंकीजांचपड़तालकररहीहै।यहभीपतालगारहीहैकिविदेशीपैसालेनेमेंनियमोंकापालनकियागयाहैयानहीं।

आयकरमेंभीफंसेंगे:ईडीअपनीजांचमेंयहपतालगाएगीकिचंदादेनेवालोंनेहकीकतमेंचंदादियाहैयानहीं।अगरकिसीनेचेकसेपैसादियाहैतोउसकीयहभीजांचकीजाएगीकिउनकीमालीहैसियतकितनीहै।आयकरदेतेहैंयानहीं।अगरवेजांचमेंदोषीपाएजातेहैंतोउनकेखिलाफकार्रवाईहोसकतीहै।