प्रदेशकेविभिन्नआरक्षितवर्गोंकेकाॅलेजोंमेंअध्ययनरतछात्रोंकोराज्यसरकारअपनेघरसेदूरशहरीक्षेत्रोंमेंरहनेकेलिएआवासीयसुविधाहेतुवाउचरउपलब्धकरवाएगी।इसकेलिएमुख्यमंत्रीअशोकगहलोतनेएससी,एसटी,ओबीसी,एमबीसीतथाईडब्ल्यूएसवर्गकेविद्यार्थियोंकेलिएअम्बेडकरडीबीटीवाउचरयोजनालागूकरनेकेप्रस्तावकोमंजूरीदीहै।

सामाजिकन्यायएवंअधिकारिताविभागकेप्रस्तावकेअनुसार,गतपरीक्षामेंन्यूनतम75प्रतिशतअंकहासिलकरनेवालेकुल5हजारछात्रोंकोमेरिटकेआधारपरवर्षमें10माहकेलिएडीबीटीवाउचरदिएजाएंगे।योजनाकेतहतलाभार्थीछात्रोंकोसंभागीयमुख्यालयोंपरआवासीयसुविधाकेलिएप्रतिछात्र7हजाररुपएप्रतिमाहतथाअन्यजिलामुख्यालयोंकेलिए5हजाररुपएप्रतिमाहदेयहोंगे।

राजकीयमहाविद्यालयोंमेंस्नातकअथवास्नातकोत्तरकक्षाओंमेंनियमितरूपसेअध्ययनरतछात्रहीयोजनाकेलिएपात्रहोंगे।राज्यसरकारकेविभिन्नविभागोंद्वारासंचालितछात्रावासोंमेंरहकरअध्ययनकररहेविद्यार्थीयोजनाकेपात्रनहींहोंगे।योजनाशैक्षणिकसत्र2021-22मेंहीप्रारंभहोजाएगी।