उत्तरप्रदेशमेंचलरहीअपनीकिसानयात्राकेचौथेदिनराहुलगांधीनेशुक्रवारकोअयोध्याजाकरहनुमानगढ़ीमंदिरमेंदर्शनकिया.वहहनुमानगढ़ीमंदिरमेंसुबह10:00बजेपहुंचेऔरकरीब10मिनटवहांरहकरपूजाअर्चनाकी.उसकेबादवेहनुमानगढ़ीकेमहंतज्ञानदाससेमिलेऔरबंदकमरेमेंकरीब10मिनटतकउनसेबातचीतकी.

पूजाकेबादउन्होंनेहनुमानगढ़ीकेगद्दीनशीनमहंतरमेशदाससेभीआशीर्वादलिया.मंदिरमेंदर्शनकरनेकेबादराहुलगांधीमाथेपरचंदनतिलकलगाएहुएबाहरनिकलेलेकिनमीडियाकेकिसीसवालकाजवाबदिएबगैरसीधेफैजाबादकीओरनिकलगए.

इसबातकोलेकरतमामकयासलगाएजारहेथेकीहनुमानगढ़ीमेंदर्शनकरनेकेबादराहुलगांधीरामजन्मभूमिमंदिरमेंदर्शनकरनेकेलिएजातेहैंयानहीं.रामजन्मभूमिमंदिरहनुमानगढ़ीसेकुछहीदूरीपरहै.लेकिनराहुलगांधीनेवहांनाजानेमेंहीभलाईसमझी.सूत्रोंकेमुताबिककांग्रेसकेनेताओंकीसलाहथीकिराहुलकेराममंदिरजानेसेबहसकासारामुद्दाराहुलगांधीकीकिसानयात्रासेहटकरराहुलगांधीकेराममंदिरजानेपरसिमटजाएगा.

पीएमबननेकामांगाआशीर्वाद

हनुमानगढ़ीमंदिरमेंराहुलगांधीकोपूजाकरानेवालेपुजारीराजूदासनेबतायाकिपूजाकेवक्तराहुलगांधीकेसाथमौजूदकांग्रेसनेतागिरीशपतित्रिपाठीनेउनसेकहाकिराहुलगांधीकोप्रधानमंत्रीबननेकाआशीर्वाददीजिए.लेकिनखुदराहुलगांधीकुछनहींबोलेऔरचुप-चापपूजाकी.

दरगाहपरचादरभीचढाएंगेराहुल

बाबरीमस्जिदविध्वंसकेबादपहलीबारनेहरूगांधीपरिवारकाकोईव्यक्तिअयोध्याआयाहै.इससेपहले1990मेंराजीवगांधीअपनीसद्भावनायात्राकेदौरानअयोध्यातोआएथेलेकिनहनुमानगढ़ीमंदिरमेंदर्शनकाकार्यक्रमहोनेकेबावजूददर्शननहींकरपाएथे.मंदिरमेंदर्शनकरनेकेबादराहुलगांधीफैजाबादसेअंबेडकरनगरकीअपनीयात्रापरनिकलगएऔररास्तेमेंरुककरजगह-जगहरोडशोकिया.शुक्रवारकीशामकोराहुलगांधीअपनीयात्राखत्म

करनेसेपहलेकिछौछाशरीफकीदरगाहपरजाकरचादरभीचढ़ाएंगे.