जासं,प्रतापगढ़:नगरकेमंदिरोंमेंभीआस्थाकीधाराबही।बेल्हादेवीधाममेंभीलोगदर्शनकोपहुंचे।जल,पुष्प,भांगवमदारआदिलेकरभक्तोंकीकतारलगीरही।

गौरीशंकरधामभुपियामऊमेंभोरसेहीजयकारेलगातेलोगोंनेउन्होंनेबार-बारीसेदर्शनकिया।इसकेबादअन्यमंदिरोंमेंपूजनवपरिक्रमाकरकेजीवनमेंसुख-समृद्धिकाआशीर्वादमांगा।पुजारीटोनीबाबावनिवर्तमानप्रधानआलोकसिंहकेसंयोजनमेंभक्तोंकोमहाशिवरात्रिकाप्रयादवितरितकियागया।इसदौरानक्षेत्रकेअभयशुक्ला,पवनमिश्र,अजीतसिंह,रिकूसिंह,पं.हरिनाथपांडेय,अनूपपांडेयवसीपीआदिनेबतायाकिमहाभारतकालकेइसमंदिरकास्वरूपअबऔरआकर्षकहोगयाहै।फर्शपरटाइल्यलगनेसेलोगोंकोसुविधाहोरहीहै।मंदिरकेबाहरमालीअपनीदुकानलगाकरबैठेथे।मेलेसानजारारहा।बच्चोंनेखिलौनेखरीदेवगुड़कीजलेबी,चिटकाखरीदा।भोरसेलेकरराततकमंदिरपरिसरजयकारोंसेगूंजतारहा।मनेश्वरमंदिरकादीपुरमेंलोगोंनेरुद्राभिषेककियागया।इसकासंयोजनमनीषकुमारदुबेवविष्णुकुमारदुबेनेजनकल्याणकोपूजनकिया।ग्रामीणोंनेजलचढ़ाकरअपनेपापनष्टकिए।

भयहरणनाथकेदर्शनकोरहेलालायित

संसू,कटरागुलाबसिंह:बकुलाहीकेतटपरभयहरणनाथबाबाकेदरबारमेंमहाशिवरात्रिपरश्रद्धालुपहुंचे।भोरसेहीदर्शनवपूजनकिया।लोगोंकीकतारलगवानेमेंपुलिसतत्पररही।इसमौकेपरयहांचलरहेमहाकालमहोत्सवकेअंतर्गतविविधकार्यक्रमभीहुए।यहांपरकाव्यधाराबहानेकोकईकविचकवयित्रीभीपहुंचे।महिलाकाव्यमंचपूर्वीउत्तरप्रदेशकीअध्यक्षमंजूपांडेय,महकजौनपुरीकीअध्यक्षतामेंडॉ.नीलिमामिश्राकेसंयोजनऔरसंचालनमेंकविसम्मेलनपूरेहर्षोल्लासकेसाथहुआ।कार्यक्रमकेमुख्यअतिथिरहेबालकृष्णपांडेयअध्यक्षरामायणमेलासमितिऔरविशिष्टअतिथिसंजयपांडेय,एसओजेठवारा,आभामिश्रानेकार्यक्रमकाशुभारंभमांसरस्वतीकीस्तुतिसेकिया।ऋतंधरामिश्रानेसुनाया-सारीसारीरतियाजगावे,कोयलतोरीविरहनबोलिया।महकजौनपुरीनेसुनायारासआईहैमुझेखूबयेसंगमनगरी।डॉ.पूर्णिमामालवीयनेपढ़ा-हिदकीगरिमासमझिए,हिदकोपहचानिए।इसमौकेपरडॉ.उपासनापांडेय,आभामिश्रानेभीकवितापढ़ी।आकाशवाणीकेनिदेशकलोकेशशुक्लकागीतकानोंमेंरसघोलगया।आर्यशेखर,अशोकस्नेही,कपिलतिवारीनेभीरचनाप्रस्तुतकीं।समापनसामाजिककार्यकर्ताएवंमहासचिवभयहरणनाथधामसमितिसमाजशेखरनेकिया।

डुगडुगीबजाकरदेतेरहेआशीर्वाद

घुइसरनाथधाममेंमंदिरपरिसरजलाभिषेककरनेवालोंकीनजरडुगडुगीबजानेवालेबच्चोंपरजरूरपड़रहीथी।दर्शनकरकेलौटनेवालेश्रद्धालुओंकोवहअपनेअंदाजमेंआशीर्वाददेरहेथे।अमांवाकेराजवशालिनीनजरआए।

भंडारामेंसाबूदानाकिबंटरहीखिचड़ी

बाबाघुइसरनाथधाममेंइसवर्षभीघुइसरनाथधामसेवासंस्थानकेकार्यकताओंनेश्रृद्धालुओंकोसाबूदानाकिखिचड़ीबांटी।व्रतमेंइसेखाकरलोगतृप्तिपारहेथे।

गंगासरोवरमेंडुबकी

बाबाघुइसरनाथधाममेंगंगासरोवरमुख्यआकर्षणहोताहै।इसबारभीसाफजलकेलबालबहोनेसेलोगस्नानकरमस्तीकरतेदिखे।