अरवल।समाहरणालयकेसभाकक्षमेंशनिवारकोजिलाधिकारीसतीशकुमार¨सहकीअध्यक्षतामेंप्रधानमंत्रीआवासयोजनाकोलेकरसमीक्षाबैठकआयोजितकीगई।इसमौकेपरजिलाधिकारीनेप्रत्येकप्रखंडमेंसंचालितयोजनाकीप्रगतिकीसमीक्षाकी।कुर्थातथावंशीप्रखंडमेंयोजनाकीप्रगतिकाफीधीमीरहनेकेकारणजिलाधिकारीनेअसंतोषव्यक्तकरतेहुएइंदिराआवाससहायकोंकोफटकारलगाई।उन्होंनेकहाकिकार्यमेंतेजीलातेहुएससमययोजनापूराकरें।डीएमनेइंदिराआवाससहायक,पर्यवेक्षकतथालेखापालकोनिर्देशदेतेहुएकहाकिप्रधानमंत्रीआवासयोजनामेंशिथिलताबर्दाश्तनहींकीजाएगी।उदासीनताबरतनेवालेअधिकारियोंवकर्मियोंपरकानूनसंगतकार्रवाईकीजाएगी।उन्होंनेकहाकिलक्ष्यकीप्राप्तिकोलेकरसभीकोसक्रियहोकरकार्यकरनाहै।उन्होंनेकहाकिजिलेमेंतीनहजार814प्रधानमंत्रीआवासकानिर्माणकरानाथालेकिनअबतकमात्र1130हीआवासबनाएगएहैंजोकाफी¨चताजनकबातहै।उन्होंनेकहाकिहरहालमेंमार्च2019तकलक्ष्यकेअनुरूपआवासबनाएजाएंगे।उन्होंनेकहाकिजोइंदिराआवाससहायकदिसंबरमेंअपनालक्ष्यप्राप्तकरलेंगेउन्हेंजिलाप्रशासनकेद्वारापुरस्कृतकियाजाएगा।यदिनिर्धारितसमयतकलक्ष्यकीप्राप्तिनहींकरनेवालेसहायकोंपरकार्रवाईकीजाएगी।जिलेकेविकासमेंसभीलोगोंकासहयोगजरूरीहै।उन्होंनेकहाकिकिसीकीकोताहीसेव्यवस्थापरगलतप्रभावपड़ताहै।डीएमनेबैठकमेंअनुपस्थितइंदिराआवाससहायक,लेखापालतथापर्यवेक्षककाएकदिनकावेतनकाटेजानेकानिर्देशदिया।इसमौकेपरउपविकासआयुक्तराजेशकुमार,आवाससहायक,लेखापाल,पर्यवेक्षकतथासभीसंबंधितकर्मीमौजूदथे।