नीरज¨सह,कौशांबी:जिलेकेआठब्लाकोंमेंकस्तूरबागांधीआवासीयबालिकाविद्यालयसंचालितहैं।हरविद्यालयमेंसौबच्चियांपढ़तीहैं।इनबच्चियोंकोखानेकेअलावाकपड़ेसहितसभीसुविधाएंबेसिकशिक्षाविभागकीओरसेमिलनेकाप्रावधानहै,लेकिनस्कूलकीअव्यवस्थाकेचलतेकईबच्चियांरोजानाघरलौटजातीहैंऔरउन्हेंशिक्षाकेअलावाकोईअन्यसुविधानहींमिलतीहै।ऐसेमेंउनकोमिलनेवालीसुविधाओंकीधनराशिकागबनकरलीजातीहै।इसकापर्दाफाशपिछलेदिनोंसीडीओकेनिर्देशकेबादविद्यालयोंकीजांचमेंहुआहै।

कस्तूरबागांधीआवासीयबालिकाविद्यालयमेंअव्यवस्थाकाआलमहै।पिछलेदिनोंवहांकीगड़बड़ियोंकोदैनिकजागरणमेंप्रमुखतासेप्रकाशितकिया।उसकेबादअफसरोंनेइसेगंभीरतासेलियाऔरसीडीओनेजांचशुरूकराई।जिलास्तरकेअधिकारियोंनेआठोंविद्यालयोंकाऔचकनिरीक्षणकिया।अधिकारियोंकीजांचमेंविद्यालयसेकरीब40फीसदछात्राएंगायबमिली।इतनीभारीसंख्यामेंछात्राओंकेविद्यालयसेगायबहोनेकेसंबंधमेंविद्यालयकेपासहीकोईउचितजवाबनहींहै।जबकिविभागकीओरसेइनकेनामपरआनेवालेधनकोनिकालकरबंदरबांटकरकियाजारहाहै।अगस्तमाहतककाभुगतानभीप्रतिविद्यालय100छात्राओंकीदरसेनिकालजाचुकाहै।

एकछात्राकेखानेकाबजटतीनहजार

कस्तूरबागांधीआवासीयबालिकाविद्यालयमेंरहनेवालीहरछात्राकोखानेकेलिएप्रतिदिन100रुपयेकीदरसेभुगतानकियाजाताहै।इसकेसाथहीउनकोमिलनेवालीअन्यसुविधाओंकेलिएअतिरिक्तधनमिलताहै।विद्यालयकीओरसेछात्राओंकीसंख्याअधिकदिखाकरउनकेलिएआएधनकाबंदरबांटकियागयाहै।

क्याकहतीहैअधिकारियोंकीरिपोर्ट

-कस्तूरबागांधीबालिकाविद्यालयकीछात्राएंविद्यालयमेंनहींरहती।इनकेनामसेकेवलकागजीकोरमपूराकरधननिकालनेकाकामकियाजाताहै।अधिकारियोंकीजांचमेंइसकापर्दाफाशहुआहै।नेवादाखंडविकासअधिकारीअखिलेशतिवारीनेमिश्रपुरदहियाविद्यालयकीजांचकी।जिसमेंउन्होंनेपायाकिविद्यालयमें100छात्राएंपंजीकृतहैं।निरीक्षणकेदौरान58छात्राएंहीविद्यालयमेंमिली।अन्यछात्राएंविद्यालयसेगायबरही।उनकेघरजानेकेसंबंधमेंवहांकीवार्डनभीकुछनहींबतासकी।अर्थएवंसंख्याअधिकारीएसके¨सहनेसरसवांविद्यालयकानिरीक्षणकिया।उन्होंनेअपनीजांचरिपोर्टमेंकहाकिविद्यालयमें50छात्राओंकीसापेक्षमात्र37बेडहीलगेमिले।जबकिविद्यालयमें100छात्राओंकापंजीकरणहै।जिलापंचायतीराजअधिकारीकमलकिशोरनेकड़ाविद्यालयकानिरीक्षणकिया।उन्होंनेजांचमेंबतायाकिविद्यालयमें100छात्राओंकोपंजीकरणहैलेकिन54छात्राएंआईथी।खंडविकासअधिकारीमूरतगंजश्वेता¨सहनेमूरतगंजविद्यालयकानिरीक्षणकिया।वहांपर85छात्राएंमौजूदथी।छात्राएंऔरभुगतानपूराहोनेपरमामलासंदेहपैदाकरताहै।

अधिकारियोंकेकब्जेमेंहैलेखा-जोखा

-कस्तूरबागांधीबालिकाविद्यालयमेंकिसीप्रकारकीखरीदवभुगतानहोताहैतोइसकेलिएलेखा-जोखाविद्यालयमेंनहींरखाजाता।विभागीयअधिकारीहीइसकीपूरीयोजनातैयारकरतेहैंऔरखरीदआदिकाभुगतानखुदकरतेहैं।विद्यालयोंमेंलेखाकारहोनेकेबादभीउनसेकामनलेनायहअधिकारियोंपरसंदेशपैदाकररहा।