महिदरसिंहअर्लीभन्न,कलानौर:

गर्मीकेकारणदिनकातापमानबढ़गयाहै।इससेमनुष्यकेसाथ-साथपशुओंकाभीबुराहालहै।गर्मीकेएकदमबढ़जानेसेपंखों-कूलरोंकीब्रिकीमेंभीतेजीआईहै।उधरगर्मीकेपारेकेकारणगेहूंलालहोनीशुरूहोगईहै,जिससेकिसानोंमेंगेहूंकाझाड़कमहोनेकाअंदेशाहोनेसेचितितहै।

उधरमौसमविभागकेअनुसारआनेवालेदिनोंमेंगर्मीअपनापूराप्रकोपदिखाएगी।मैदानीइलाकोंमेंगर्मीकाअसरअधिकहोनेकेकारणअबलोगोंनेपहाड़ीइलाकोंकारुखकरनाशुरूकरदियाहै।

गौरतलबहैकिपिछलेकुछदिनोंसेगर्मीकाप्रकोपयौवनपरहै।पंखेभीगर्मीसेराहतनहींदेपारहेहै।दोपहरकेसमयतोबाहरनिकलनामुश्किलहोचुकाहै।हालांकिसुबहऔररातकेसमयहलकीसर्दीकाअहसासहोरहाहै।जिससेकभीमौसमसर्दऔरगर्महोनेकेकारणलोगबीमारहोरहेहै।अबलोगोंनेगर्मीसेराहतपानेकेलिएठंडेपेयजलकासेवनकरनाशुरुकरदियाहै।मगरडाक्टरोंकेअनुसारअभीठंडेपेयजलकासेवनकरनेसेबीमारहोसकतेहै।

उधरकाश्तकारप्रगटसिंह,हरपिदरसिंह,कुलवंतसिंह,बलदेवसिंह,सुच्चासिंह,अमृतपालसिंह,मनदीपसिंह,गुरदेवसिंहआदिकाकहनाहैकिपिछलेदिनोंकेमुकाबलेशनिवारकोपारा33.1डिग्रीसेल्सियसदर्जकियागयाहै।गर्मीकेकारणगेहूंलालहोनीशुरूहोगईहै।यदिऐसाहीरहातोसमयसेपहलेफसलपकजाएगी,जिससेगेहूंकेदानेकमजोररहसकतेहैं।जिससेझाड़कमनिकलनेकीचितासतारहीहै।उन्होंनेकहाकिपहलेहीगेहूंकीकाश्तकेलिएअधिकखर्चकियागयाहै।यदिआनेवालेदिनोंमेंगेहूंकाझाड़कमनिकलताहैतोकिसानोंकोआर्थिकतौरपरबड़ानुक्सानझेलनापड़सकताहै।

जिलागुरदासपुरकेकिसानगेहूंकीखेतीमेंहमेशाअग्रिमरहाहै।इससमयभीजिलेमेंकरीब1.84लाखहेक्टेयरकिसानोंनेगेहूंकीकाश्तकीहुईहै।दुकानदरोंकीबनीचांदी

गर्मीकाएकदमसेप्रकोपबढ़जानेकेचलतेलोगोंनेअपनारुखपंखेवकूलरखरीदनेकीओरशुरुकरदियाहै।दुकानदारगुरजीतसिंहबुलारिाय,रिशूशर्मा,अश्वनीमहाजन,कुलजीतसिंहआदिदुकानदारोंनेबतायाकिवहपिछलेसमयसेसर्दीकेमौसमकेकारणकामकाजठप्पथा।लेकिनअबअचानकसेगर्मीकापाराबढ़जानेसेउनकीदुकानोंपरकूलर,पंखेखरीदनेवालेग्राहकदुकानोंपरआरहेहै।इसबाररेटप्रत्येकपंखापिछलेसालकेमुकाबलेकरीब100रुपएबढ़गयाहै।गर्मीशुरूहोनेसेउनकाकारोबारभीशुरुहोचुकाहै।

विशेषध्यानरखनेकीजरुरत

उधरखेतीबाड़ीविकासअधिकारीगुरदासपुरडा.जोबनजीतसिंहनेबतायाकिइससमयकिसानोंकोअपनीगेहूंकेखेतोंकाविशेषध्यानरखनीकीजरुरतहै।यदिइसमौसममेंगेहूंकेखेतसूखेहुएहैतोउन्हेंतुरंतपानीकीसिचाईकरें।सूखेखेतवभीषणगर्मीकेकारणअचानकलालहोरहीगेहूंकाझाड़कमहोसकताहै।जिसकेलिएकिसानगेहूंकेखेतोंकोसमयपरपानीकीसिचाईकरें।