जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:कांग्रेसकार्यकर्ताओंनेजिलायोजनासमितिकेसदस्योंकेजिलाप्लानकेअनुमोदनकोअसंवैधानिककरारदियाहै।उन्होंनेडीएमकार्यालयमेंधरनाप्रदर्शनकरजल्दनियमोंकेतहतकार्यनहोनेपरउग्रआंदोलनकीचेतावनीदीहै।

कांग्रेसकार्यकर्ताओंनेपूर्वविधायकललितफस्र्वाणवजिलापंचायतअध्यक्षहरीशऐठानीकेनेतृत्वमेंजिलाधिकारीकार्यालयमेंधरनाप्रदर्शनकिया।पूर्वविधायकफस्र्वाणनेकहाकिजिलायोजनासमितिमें15सदस्यनामितहै,लेकिनप्रभारीमंत्रीप्रकाशपंतनेबिनाकोरमपूराहुएहीयोजनाओंकाअनुमोदनकरदिया।जोअसंवैधानिकहै।जिलायोजनासमितिनियमावली2010के28मेंस्पष्टलिखाहैकिप्रत्येकबैठककीतिथिवसमय15दिनपूर्वनिर्धारितकीजाएगी।आपातकालमेंजिलायोजनाकीबैठककेलिएकमसेकम10दिनकानिर्धारणकियागयाहै।संख्या29मेंलिखाहैकिकोईभीकार्यतबतकपारितनहीहोगाजबतककुलसदस्योंकीउपस्थितिआधेसेअधिकनहो।लेकिनयहांनियमोंकोताकपररखकरकार्यकियागया।नामितसदस्योंकीअनदेखीकीगई,जबकिवो¨टगकाअधिकारमात्रनिर्वाचितसदस्योंकाहै।उन्होंनेकहाकिअगरजिलायोजनाकीबैठकदोबारासेतिथिनिर्धारितकरनहीकीजातीतोमजबूरनकोर्टमेंजानापड़ेगा।इससंबंधमेंउन्होंनेजिलाधिकारीरंजनाकोज्ञापनदिया।

इसअवसरपरलोकमणिपाठक,सुनीताटम्टा,महिमनगढ़यिा,भगतरावल,राजेंद्रपरिहार,कविजोशी,सुरेशखेतवाल,यशपालटाकुली,रोहितखैर,उमेशउपाध्याय,दीपकखेतवाल,नरेंद्रबघरी,गंगा¨सहबघरी,धीरजकोरंगा,नवीनसाह,दरबान¨सह,ललितऐठानीआदिमौजूदथे।