संवादसहयोगी,टांडाउड़मुड़:चौलांगटोलप्लाजापरदोआबाकिसानकमेटीऔरइलाकेकेकिसानोंकीओरसेकृषिसुधारकानूनकेखिलाफसंघर्षमंगलवारको58वेंदिनभीजारीरहा।इसदौरानविभिन्नगांवोंसेआएकिसानोंऔरसंगठनोंनेकृषिसुधारकानूनकेखिलाफमोर्चाखोलाऔरकेंद्रसरकारकेखिलाफनारेबाजीकी।धरनेकेदौरानप्रितपालसिंह,जरनैलसिंहवबलबीरसोहियांकीअगुआईमेंमंगलवारकेधरनेदौरानगांवभोगपुरकेसिद्धूपरिवारनेकिसानोंकेलिएलंगरकाप्रबंधकिया।इसमौकेपरनिर्मलसिंहलक्की,जरनैलसिंह,मंत्रीजाजाऔरदरबारासिंहनेकिसानविरोधीकृषिसुधारकानूनकोरदकरवानेकीमांगकी।इसमौकेपरमास्टरअजीतसिंह,सुखविदरसिंहसिद्धू,बिक्रमजीतसिंहसिद्धू,हरजिदरसिंह,गुरप्रीतसिंहसिद्धू,चरणप्रीतसिंहसिद्धू,साधूसिंह,जसपालसिंह,मलकीतसिंह,अवतारसिंह,करमजीतसिंह,स्वरणसिंह,परगनसिंह,गुरमिदरसिंह,निरंकारसिंह,अजीतसिंह,सतनामसिंहढिल्लों,शिवपूर्णसिंह,शीतलसिंह,दिलबागसिंह,धर्मप्रीतसिंह,दर्शनसिंह,बलदेवसिंह,सरदूलसिंह,अमरीकसिंह,बचनसिंह,हरभजनसिंह,सुखविदरसिंह,समनपदीपसिंह,कुलवंतसिंह,हरजीतसिंह,इंदरजीतसिंह,हरप्रीतसिंहवअन्यकिसानउपस्थितथे।

केंद्रसरकारकृषिसुधारकानूनकोरदकरे:विधायकरौड़ी

गढ़शंकर:सिघुसरहदपरपंजाबकेकिसानोंद्वाराकृषिसुधारकानूनकोरदकरवानेकेलिएदिल्लीबंदकेलिएइकट्ठेहुएकिसानोंकीसमस्याओंकेहलकेलिएविधायकजयकृष्णसिंहरौड़ीपहुंचे।उन्होंनेकहाकिकेंद्रसरकारनएबनाएकृषिसुधारकानूनकोतुरंतरदकरे।उन्होंनेगढ़शंकरइलाकेसहितपंजाबकेविभिन्नभागोंसेपहुंचेकिसानोंसेबातचीतकरसमस्याओंसंबंधीदिल्लीकीकेजरीवालसरकारसेसंपर्ककरहलकरवाया।इसमौकेपरउन्होंनेकेंद्रसरकारकोऐतिहासिकतथ्योंसेअवगतकरवाया।उन्होंनेकिसानोंकीमांगोंकापूर्णसमर्थनकरतेकहाकिकेंद्रसरकारकोअपनाअडि़यलरवैयाछोड़करकिसानोंकेसाथखड़ाहोनाचाहिए।इसमौकेपरउनकेसाथविधायककुलतारसिंहसंधवा,मनजीतसिंहबिलासपुरी,अमरजीतसिंहसंदोआ,सरपंचसुच्चासिंहकुकड़मजारा,हरजिदरमंडेर,जगतारसिंहसंघाभीहाजिरथे।