रोहतास।प्रखंडकेप्राथमिकविद्यालयहरिदासपुरमेंछात्र-छात्राओंनेशनिवारकोपोलियोउन्मूलनजागरूकतारैलीनिकालीगई।गांवोंमेंभ्रमणकरबच्चेदोबूंदजिदगीकेनारेनगारहेथे।रैलीमेंसाथचलरहेपीएचसीचिकित्सकसंग्रामसिंहसमेतअन्यस्वास्थ्यकर्मीलोगोंकोजागरुकताकासंदेशदिए।

डॉ.सिंहनेअभिभावकोंसेअपीलकरतेहुएकहाकिपोलियोएकघातकबीमारीहै,जिसकेवायरसशरीरमेंविकृतपैदाकरदेतेहैं।पोलियोवायरसकोजड़सेसमाप्तकरनेकेलिएपूराविश्वएकसाथमिलकरकामकिया,जिसकापरिणामआजभारतमेंभीसकारात्मकरूपसेदेखनेकोमिलरहाहै।'दोबूंदजिदगीकी'कानाराइतनासफलरहा,जिसकीशायदआरंभमेंकल्पनाभीकिसीनेनहींकीथी।संयुक्तराष्ट्रने1988मेंविश्वकोपोलियोमुक्तकरनेकाअभियानआरंभकियाथा।भारतमेंयहअभियान1993सेफलीभूतहोकर1995मेंराष्ट्रीयस्वास्थ्ययोजनामेंशामिलहोनेकेबाददेशव्यापीअभियानमेंपरिणतहुआ।रैलीमेंप्रधानशिक्षकविजयकुमार,रजनीकांत,भोलानाथसिंह,श्रीभगवानसिंह,वार्डसदस्यविजयबिद,मनोजकुमारमुन्ना,उमाशंकरसिंह,शिक्षिकासुनीताकुमारी,कृष्णानंदसिंह,सचिवउषादेवी,उतमदेवी,पानपतिदेवी,रीनादेवीसहितविद्यालयकेबच्चेशामिलथे।