चतरा,जासं।स्थानीयआदिनाथदिगंबरजैनमंदिरमेंचोरोंनेलाखोंकेजेवरातऔरदानपेटीमेंरखेलाखोंरुपयेचुरालिए।दानपेटीपिछलेतीनवर्षोंसेनहींखुलीथी।इसकारणइसमेंअच्छी-खासीरकमहोनेकाअनुमानलगायाजारहाहै।आदिनाथदिगंबरजैनमंदिरचतराकेमारवाड़ीमोहल्लामेंस्थितहै।यहमोहल्लाशहरकेशांतइलाकोंमेंशुमारहै।यहांचोरीकीघटनासेसभीस्तब्धहैं।गुरुवारकीसुबहजैनसमुदायकेलोगपूजा-अर्चनाकेलिएमंदिरमेंआए,तोलकड़ीकादरवाजाटूटादेखचौंके।

इसकेबादउनकीनजरतिजोरीऔरदानपेटीपरपड़ीतोपूरामाजरासमझमेंआया।सूचनाकेबादसदरथानापुलिसमौकेपरपहुंचीऔरस्थितिकाजायजालिया।मारवाड़ीमोहल्लानिवासीपवनकुमारजैननेसदरथानामेंअज्ञातचोरोंकेखिलाफमामलादर्जकरानेकाआवेदनदियाहै।घटनाकेबादसेस्थानीयलोगोंमेंआक्रोशहै।लोगोंनेपुलिससेआरोपियोंकेगिरफ्तारीकीमांगकीहै।

अमनजैनकाकहनाहैकिजैनमंदिरमेंचोरीकीयहदूसरीबड़ीघटनाहै।20वर्षपूर्वपुरानेजैनमंदिरमेंचोरोंनेलाखोंरुपयेकेसोना,चांदी,जेवरातवतिजोरीसेरुपयेकीचोरीहुईथी।मामलाभीदर्जहुआथा,लेकिनचोरोंकोपुलिसआजतकनहींपकड़सकी।