मोहम्मदहारून,पलवल:

गांवटीकरीब्राह्मणमेंआठवर्षीयबच्चीनुसरतमेंडेंगूकीरिपोर्टआनेकेबादस्वास्थ्यविभागहरकतमेंआगयाहै।डेंगूकीरिपोर्टकेबादविभागनेडेंगूप्रभावितएरियामेंफॉ¨गगकराकरआस-पासकेघरोंमेंबुखारसेपीड़ितमरीजोंकीस्लाइडबनाकरजांचकीजारहीहै,ताकियहपतालगायाजासकेकिकहींअन्यमरीजमेंतोडेंगूकीशिकायतनहींहै।विभागकेकर्मियोंकीतरफसेलोगोंकोडेंगूकेप्रतिजागरूककियागया।

टीकरीब्राह्मणगांवमेंहाफिजकीआठवर्षीयबच्चीनुसरतकोपिछलेमाहबुखारकेचलतेदिल्लीकेकलावतीअस्पतालमेंभर्तीकरायागयाथा।बतायागयाहैकिवहांपरजांचकेदौरानबच्चीकोचिकित्सकोंनेडेंगूकीपुष्टिकी।कलावतीअस्पतालसेमामलेकीरिपोर्टजिलाअस्पतालमेंअबआईहै।रिपोर्टकेबादजिलास्वास्थ्यविभागहरकतमेंआयाहै।

जिलामलेरियाअधिकारीकीतरफसेगांवमेंपीड़ितबच्चीकेघरोंकेआसपासकेलगभग50घरोंमेंबुखारसेपीड़ितोंकीजांचकी।जांचकेदौरानस्लाईडभीबनाईहै।इसकेअलावागांवमेंफॉ¨गगकराईगईहै।कुशक-बडौलीमेंहोसकतेहैंमरीज

फरीदाबादकेबादशाहखानअस्पतालमेंतीनदिनपहलेबुखारसेभर्तीहुएएकमरीजमेंडेंगूकीपुष्टिहोनेकेबादसूचनामिलनेपरमरीजकेबारेमेंजानकारीजुटाईजारहीहै।विभागकेडॉ.मंजीतकुमारगौतमकेअनुसारउन्हेंसूचनाजरूरमिलीहै,लेकिनअभीयहपतानहींहैकिपीड़ितकाआवासफरीदाबादमेंहैयाफिरवेगांवमेंरहरहाहै।पूरेतथ्यसामनेआनेपरविभागकीतरफसेउचितकार्रवाईहोगी।आशंकाहैकिउक्तगांवोंमेंभीडेंगूकेमरीजहोसकतेहैं।जांचकीहैनि:शुल्कव्यवस्था

डेंगूकीजांचकेलिएहोनेवालेएल्जाटेस्टजिलानागरिकअस्पतालमेंनि:शुल्कव्यवस्थाकीहुईहै।इसजांचसेयहपतालगजाताहैकिपीड़ितकोडेंगूबुखारहैयानहीं।शहरकेकिसीभीनिजीअस्पतालमेंडेंगूकीजांचकीव्यवस्थानहींहैऔरनहीकोईडेंगूकीपुष्टिकरसकताहै।सिर्फआशंकाजाहिरकरसकताहै।टीकरीब्राह्मणमेंविभागकीटीमेंभेजकरआवश्यकउपचारकेबादलोगोंकोजागरूकभीकररहींहैं।अभीतकइससीजनमेंडेंगूकाकेवलएकहीमामलासामनेआयाहै।विभागडेंगूऔरमलेरियाकोलेकरसतर्कहै।

-डॉ.मंजीतकुमारगौतम,जिलामहामारीविशेषज्ञपलवल।