संवादसहयोगी,ब्रजघाट

गंगानगरीब्रजघाटमेंदीपदानकरनेकेलिएआनेवालेश्रद्धालुओंकीभीड़बढ़रहीथी।इसीबीचएकबेटीनेबेटेकाफर्जनिभातेहुएदिवंगतपिताकीआत्मशांतिकेलिएदीपदानकिए।यहबेटीकोईऔरनहींबल्किजनपदहापुड़कीडीएमअदितिसिंहहैं।इससेपहलेनौअगस्तकोब्रजघाटगंगाकिनारेपरइन्होंनेपिताकोमुखाग्निदीथी।

सेवानिवृत्तआइएएसधनंजयप्रसादसिंहमूलरूपसेजनपदबस्तीकेरहनेवालेथे।जनपदहापुड़कीजिलाधिकारीअदितिसिंहकेपिताथे।वहबनारसकेमंडलायुक्तकेसाथ-साथकेंद्रसरकारमेंकईपदोंपररहेथे।सेवानिवृत्तहोनेकेबादवहअपनीपुत्रीजिलाधिकारीअदितिसिंहकेसाथहीरहतेथे।वहपिछलेकाफीसमयसेअस्वस्थचलरहेथे।उनकादिल्लीकेएकअस्पतालमेंउपचारचलरहाथा।अगस्तमाहमेंउनकाउपचारकेदौराननिधनहोगयाथा।ब्रजघाटस्थितश्मशानघाटपरअंतिमसंस्कारकियाथा।बेटीअदितिसिंहनेबेटेकाफर्जनिभातेहुएउनकीचिताकोमुखाग्निदीथी।उनकेनिधनकीसूचनापरमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेगहराशोकव्यक्तकियाथा।

शनिवारकोजिलाधिकारीअदितिसिंहब्रजघाटपहुंचीं।यहांउन्होंनेनावमेंबैठकरएकबारफिरबेटेकाफर्जनिभातेहुएनमआंखोंसेपिताकीआत्मशांतिकेलिएदीपदानकिए।इसदौरानपुरोहितनेमंत्रोच्चारणकिया।इसदौरानउन्होंनेफेसमास्कलगाकरऔरशारीरिकदूरीकाध्यानरखतेहुएकोविड-19केदिशा-निर्देशोंकापालनकिया।