इंदौरकीदेवीअहिल्यायूनिवर्सिटीकेIETडिपार्टमेंटकेहोस्टलमेंरैगिंगकीशिकायतमिलनेकेबादडिपार्टमेंटनेमामलेकीजांचकररिपोर्टUGCकोभेजदीहै।मामलेमेंडिपार्टमेंटनेहोस्टलके75स्टूडेंट्ससेपूछताछकरबयानलिएथे।डिपार्टमेंटकीजांचसेअगरUGCसंतुष्टनहींहोतीहै,तोमामलेकीजांचयूनिवर्सिटीकीएंटीरैगिंगकमेटीकोदीजासकतीहै।

सभीकॉलेजोंमेंरहतीहैटीम

डीएसडब्लूडॉ.एल.के.त्रिपाठीकेमुताबिकयूनिवर्सिटीकेछात्रकल्याणडिपार्टमेंटसेहरसालसभीकॉलेजोंऔरडिपार्टमेंटकोलेटरलिखकरएंटीरैगिंगकमेटीऔरएंटीरैगिंगस्क्वाडबनानेकेनिर्देशदिएजातेहैं।ऐसीघटनासंज्ञानमेंआनेकेबादसंबंधितडिपार्टमेंटकीएंटीरैगिंगकमेटीपूरेमामलेकीजांचकरतीहै।जांचमेंतथ्यात्मकजानकारीसामनेआनेकेबादप्रावधानकेमुताबिकसंबंधितपरकार्रवाईकीजातीहै।

इनमामलोंमेंयूनिवर्सिटीकीकमेटीकरतीहैजांच

डॉ.त्रिपाठीकेमुताबिकरैगिंगकीजांचकेबादडिपार्टमेंटअपनीरिपोर्टयूजीसीकोभेजताहै।अगरयूजीसीइससेसंतुष्टनहींहोताहै,तोवहदोबाराजांचकेलिएकहताहै।इसकेबादभीअगरयूजीसीसंतुष्टनहींहोताहै।तोयूनिवर्सिटीकीएंटीरैगिंगकमेटीद्वाराइनमामलोंकीजांचकीजातीहै।

कुछदिनपहलेस्टूडेंटनेकीथीशिकायत

IETकेहॉस्टलकेएकस्टूडेंटनेयूजीसीकीएंटीरैगिंगहेल्पलाइननंबरपरशिकायतकीथी।जिसकेबादमामलेमेंडिपार्टमेंटकीएंटीरैगिंगकमेटीने75होस्टलकेस्टूडेंट्ससेपूछताछकीथी।बतायाजारहाहैकिस्टूडेंट्ससेपूछताछऔरबयानोंमेंरैगिंगकीबातसामनेनहींआईथी।