राजेशशर्माजोगेंद्रनगर।जोगेंद्रनगरकेतीनप्रसिद्धधार्मिकस्थलोंकोपर्यटनकीदृष्टिसेविकसितकरनेकारास्तासाफहोगयाहै।धार्मिकस्थलोंकेकायाकल्पकीयोजनातैयारहोचुकीहै।लाखोंरुपयेमंदिरोंकेजीर्णोद्धारपरखर्चहोंगे।जोगेंद्रनगरशहरसेआठकिलोमीटरदूरप्राचीनमंदिरमच्छिदंरनाथकीपवित्रझीलकेसुंदरीकरणऔरदूसरेछौरपरबनेशनिमंदिरमेंभक्तोंकीआवाजाहीकेलिए50मीटरकेझूलापुलकेनिर्माणकीयोजनाहै।यहांपरकृत्रिमझीलकेनिर्माणपरभीकार्यहोंगेताकिपर्यटकोंकीअधिकआवाजाहीहोसके।वहींश्रद्धालुओंकीधार्मिकआस्थाकोदेखतेहुएहरिद्वारकीतर्जपरघाटकोसंवारनेकेलिए15लाखरुपयेखर्चहोंगे।निर्माणकार्यपूराहोनेकेबादहरिद्वारकीतरहमंगलवारऔरशनिवारकोमहाआरतीकाभीआगाजहोगा।

प्राचीनमंदिरमछलियोंकेदेवतामच्छिदंरनाथकोसमर्पितहै।यहांकीझीलआस्थाकामुख्यकेंद्रहै।झीलमेंपलरहीमहासीरमछलियोंकेसंरक्षणकेलिएभीलाखोंरुपयेखर्चहोंगे।साथहीबैसाखीपर्वपरहोनेवालेशाहीस्नानकेलिएसुंदरघाटोंकानिर्माणहोगा।आस्थाकेमंदिरमेंअपनीमन्नतोंकोपूराकरनेकेलिएपहुंचरहेश्रद्धालुओंकीसुविधाकेलिएवहतमामसुविधाएंउपलब्धकरवाईजाएंगी।

वहींबसाहीधारमेंमांचतुर्भुजाऔर लडभड़ोलक्षेत्रमेंसंतानदात्रीसिमसामाताकेदिव्यदर्शनोंकेलिएपर्यटकोंकीसुविधाकेलिएहट्टोंकानिर्माणभीहोगाताकिप्राकृतिकसुंदरताकाअधिकलाभश्रद्धालुओंऔरपर्यटकोंकोमिलपाए।दोनोंहीमंदिरमेंभीश्रद्धालुओंकीआस्थाजुड़ीहुईहै।अटूटविश्वासकेसाथप्रदेशकेविभिन्नक्षेत्रोंसेपहुंचरहेश्रद्धालुओंकोआकर्षितकरनेकेलिएइसेपर्यटनकीदृष्टिसेभीविकसितकियाजाएगा।

जोगेंद्रनगरकेदोप्रमुखधार्मिकस्थलोंकोपर्यटनकेरूपमेंविकसितकरनेकेलिए15लाखरुपयेखर्चकरनेकीस्वीकृतिमिलीहै।योजनाकोधरातलमेंउतारनेकेलिएजल्दहीनिर्माणकार्यशुरूहोगा।

-रामस्वरूपशर्मा,लोकसभासदस्य,मंडीसंसदीयक्षेत्र।