बहजोई:जिलाप्रशासनऔरपुलिसकीअथकघेराबंदीकेबावजूदभीभारतीयकिसानयूनियनकेबैनरतलेजिलेके500सेअधिककिसानदिल्लीकेगाजीपुरबॉर्डरपरपहुंचचुकेहैं,जहांआंदोलनमेंप्रतिभागकरअपनीआवाजकोबुलंदकररहेहैं।

भाकियूकेप्रदेशप्रमुखसचिवविजेंद्रसिंहयादवनेकहाकिकेंद्रसरकारकेद्वारालाएगएतीनोकानूनोंकेविरोधमेंभाकियूकेद्वारालगातारविरोधप्रदर्शनकियाजारहाहैऔरसरकारपरइनकानूनोंकोवापसलिएजानेकीमांगकीजारहीहै।सभीकिसानराष्ट्रीयअध्यक्षकेनेतृत्वमेंआंदोलनरतहैं।संभलजिलेकेप्रशासनकेद्वारापुलिसकीमददसेकिसानोंऔरसंगठनकेकार्यकर्ताओंकोनजरबंदभीकियागयाऔरउन्हेंरोकनेकाभरसकप्रयासकियागयालेकिनबावजूदइसकेकिसानजिलाप्रशासनकोचकमादेतेहुएगाजीपुरबॉर्डरपरपहुंचगएहैं।22सितंबरको500सेअधिककार्यकर्तादिल्लीपहुंचेजबकि24दिसंबरको50सेअधिककार्यकर्तादिल्लीपहुंचगए।

भाकियूनेभीबदलीरणनीति

बहजोई:किसानोंकोआंदोलनमेंजानेसेरोकनेकेलिएजिसप्रकारप्रशासनलगातारअपनीरणनीतिबदलतेहुएउनपरपहराबैठारहाहै,ठीकउसीप्रकारभारतीयकिसानयूनियनकेद्वाराभीरणनीतिबदलदीगईहै।प्रदेशसचिवविजेंद्रसिंहनेबतायाकिकिसानअबट्रैक्टरट्रालीऔरगाड़ियोंसेनहींबल्किअन्यसंसाधनोंसेदिल्लीकोपूछकररहेहैं,जिससेकिकिसानपुलिसऔरप्रशासनकीपकड़मेंनहींआसकें।

राष्ट्रीयआंदोलनमेंभीउठाएजारहेस्थानीयमुद्दे

बहजोई:किसाननकेवलराष्ट्रीयमुद्दोंकोउठारहेहैंबल्किस्थानीयस्तरकेमुद्दोंकोभीजोर-शोरसेउठायाजारहाहै।जहांउत्तरप्रदेशसरकारपरसिचाईकेलिएमुफ्तपानीकीमांगकीजारही।हैतोडीजलपर50फीसदकीसब्सिडी60वर्षसेअधिकआयुकेकिसानोंकोपेंशनकीमांगकीजारहीहै।जिलाध्यक्षशंकरसिंहयादव,संजीवयादव,वीरेंद्रसिंह,अमरसिंहराजपूत,कुमरपालसिंह,होशियारसिंह,चंद्रपालसिंह,रामवीरसिंह,भुवनेश,यादव,पप्पूयादव,ओमप्रकाश,नेत्रपाल,नवाबसिंह,हरेकृष्ण,सत्यवीर,महावीरबैठेहुएहैं।