संवादसहयोगी,डबवाली:पिछलेदोमाहसेमांसिद्वेश्वरीमहाकालीमातामंदिरकीधर्मशालामेंचलरहीमांकीरसोईबंदकरदीगईहै।इससेहररोजमहज10रुपयेमेंपेटभरकरभोजनकरनेवालेकरीब400गरीबोंकोझटकालगाहै।संचालकवेदप्रकाशबागड़ीतथामनमोहनगर्गमोहनीकाकहनाहैकिमंदिरप्रबंधककमेटीनेधर्मशालाकाकिरायाबढ़ादियाथा।साथहीरसोईकोप्रथममंजिलसेतीसरीमंजिलमेंशिफ्टकरनेकेआदेशजारीकरदिएथे।एकबारगीमांकीरसोईबंदकीगईहै।जुलाई2018मेंनईजगहपरशुरुआतकीजाएगी।संचालकोंकेअनुसार13अप्रैलको2018कोशुरुआतहुईथी।पहलेदिन91लोगोंनेरेस्टोरेंटसेसस्ताभोजनखायाथा।अबसंख्याबढ़कर425होगईथी।एवरेजकरीब400लोगमांकीरसोईमेंपहुंचनेलगेथे।इसमेंअधिकतरमजदूरयाफिररिक्शाचालकहोतेथे।प्रतिमाहखर्चहोतेथे2.75लाख

संचालकोंकेअनुसारतामिलनाडुमेंअम्माकीरसोईकोदेखकरहीमांकीरसोईशुरुकीगईथी।प्रतिमाह2.75लाखरुपयेकाखर्चआताथा।मंदिरको10हजाररुपयेप्रतिमाहकिरायाअदाकियाजाताथा।साथहीसातमहिलाएंतथाएकथ्रीव्हीलरचालककाखर्चनिकलताथा।वेखुदमंदिरप्रबंधककमेटीकेसदस्यहैं।लेकिनकमेटीनेआरोपलगायाकिरसोईकीवजहसेधर्मशालाकीदीवारेंकालीहोगईहैंतथाफर्शफटगयाहै।किरायाभी13हजारकरेंगे।इसवजहसेरसोईबंदकरनेकानिर्णयलियागया।मांकीरसोईकेसंचालकमंदिरप्रबंधककमेटीकेसदस्यहैं।जोधर्मशालाकाकिरायाअदाकरतेथे।धर्मशालाकेहालकमरेमेंरसोईकीवजहसेदीवारेंकालीहोनेलगीथी।धर्मशालाकीरसोईतीसरीमंजिलपरहै।इसलिएसंचालकोंकोखानापकानेकेलिएरसोईइस्तेमालकरनेकीहिदायतदीगईथी।संचालकोंनेरसोईबंदकरदी।

-मदनगुप्ता,प्रधान,श्रीसिद्वेश्वरीमहाकालीमातामंदिर,डबवाली