जागरणसंवाददाता,दुमका:दुमकाकेवीरकुंवरसिंहचौकस्थितदुखहरनीमातामंदिरमेंमहाअष्टमीकेमौकेपरबुधवारकोविधि-विधानसेशस्त्रपूजनकाअनुष्ठानकियागया।खासबातयहकिशस्त्रपूजनमें

महिलाश्रद्धालुओंनेभीबढ़-चढ़करहिस्सालिया।समाजसेवीठाकुरश्यामसुंदरसिंहनेकहाकिभारतीयधर्मवसंस्कृतिमेंनारीकोशक्तिकास्वरूपमानागयाहै।दुर्गाकीआराधनाशक्तिस्वरूपाकेरूपमेंकीजातीहै।कहाकिजिससमाजमेंमहिलाओंकामान-सम्मानहोताहै,उसीसमाजकोसभ्यवसमृद्धमानाजाताहै।शास्त्रोंमेंकहाभीगयाहैकियत्रनार्यस्तुपूज्यंतेरमन्तेतत्रदेवतायानिजहांस्त्रियोंकीपूजाहोतीहै।वहांदेवतावासकरतेहैंऔरजहांनारियोंकासम्माननहींहोताहैवहांकिएगएसमस्तअच्छेकर्मनिष्फलहोजातेहैं।कहाकिआजकीनारीअबलानहींसबलाहै।नारियोंकासम्मानहरहालमेंहोनाचाहिए।शस्त्रपूजनकेमौकेपरसुमितासिंहसमेतकईमहिलाएंवपुरुषमौजूदथे।