गुरप्रेमलहरी,बठिडा:सिविलअस्पतालकेब्लडबैंकमेंअभीतकपहलेमामलेकीहीजांचनहींहोपाईहै।इसमेंएकआरोपितपरइरादाकत्लकीधाराकेतहतकेसदर्जकरलियागयालेकिनबाकीदोआरोपितोंकेसाथअभीतकरियायतबरतीजारहीहै।इससेसेहतविभागवपुलिसविभागपरउंगलियांउठनेलगीहैं।पहलेमामलेकीजबकमेटीनेजांचकीतोआरोपितबलदेवसिंहरोमाणाकेअलावाबाकीदोनोंकोभीआरोपितठहरायागयाथा।लेकिनकार्रवाईअभीतकसिर्फएकपरहीकीगईहै।बाकीदोनोंकोअभीतकनामजदभीनहींकियागया।

जांचकमेटीद्वारापहलेमामलेकीजांचमेंब्लडबैंककीइंचार्जकरिश्मागोयलकोआरोपितठहरायागया।इसजांचरिपोर्टमेंकहागयाकिकरिश्मागोयलनेअपनीड्यूटीमेंघोरलापरवाहीबरतीहै।उनकीओरसेअपनीबनतीजिम्मेदारीनहींनिभाईगई।अपनेसीनियरोंसेसच्चाईकोछुपायाऔरतथ्योंकोभीछुपानेकीकोशिशकी।क्योंकिबीटीओकोमईमेंहीपताचलचुकाथाकिउक्तडोनरएचआइवीपाजिटिवहै।उनकोयहभीपतालगचुकाथाकिएकमहिलाकेएचआइवीसंक्रमितखूनचढ़ायाजाचुकाहै।इसकेबावजूदभीउसनेनतोअपनेसीनियरोंकोहीबतायाऔरनहीडोनरवमहिलाकीजिदगीकेबारेमेंहीकुछसोचा।उनकीओरसेदोनोंकीनतोकोईपड़तालकराईगईऔरनहीउनकोएआरटीसेंटरहीभेजा।उन्होंनेआरोपितएमएलटीरिचूगोयलसेभीकोईपूछताछनहींकी।

रिचूगोयलनेजारीकियाथाखून

जांचरिपोर्टकेअनुसारमेडिकललैबटेक्नीशियन(एमएलटी)रिचूगोयलकीओरसेहीदोनोंबारएचआइवीसंक्रमितखूनजारीकियागयाहै।ऐसेमेंवहभीइसमामलेमेंआरोपितहै।लेकिनउनपरअभीतकपुलिसद्वाराकोईकार्रवाईनहींकीगई।

सिविलसर्जननेब्लडबैंककादौरा

करनेकीभीनहींसमझीजरूरतबठिडाकेसिविलअस्पतालकेब्लडबैंकमेंअबतकचारलोगोंकोएचआइवीसंक्रमितखूनचढ़ायाजाचुकाहै।लेकिनहैरानीकीबातहैकिसिविलसर्जननेइसब्लडबैंकमेंजाकरमामलेकीजांचकरनेकीभीजरूरतनहींसमझी।पिछलेडेढ़माहसेऐसीघटनाएंहोरहीहैंलेकिनसिविलसर्जनइसकोहल्केमेंलेरहेहैं।अगरपहलेकेसकेआनेकेबादहीसिविलसर्जनहरकतमेंआतेऔरब्लडबैंककादौराकरतेतोपहलेकेबाददूसरीवतीसरीघटनानहोती।लेकिनउन्होंनेअभीतकभीब्लडबैंककादौरानहींकिया।इससेउनकीगंभीरतापरसवालियानिशानलगरहेहैं।ब्लडबैंकसिविलअस्पतालसेमहज100मीटरकीदूरीपरहैऔरसिविलसर्जनअपनेदफ्तरआते-जातेब्लड़बैंककेसामनेसेगुजरतेहैंलेकिनफिरभीउन्होंनेब्लडबैंककादौराकरनेकीजरूरतनहींसमझी।खूनदानियोंकेब्लडग्रुपकीनहींहोतीजांच

ब्लडबैंककायहआलमहैकिब्लडबैंकमेंखूनदानकरनेआएखूनदानियोंकेब्लडग्रुपकीजांचतकनहींहोती।सेहतकर्मियोंद्वाराखूनदानीसेपूछलियाजाताहैकिउसकाब्लड़ग्रुपकौनसाहैऔरउसीकोहीबैगकेऊपरलिखदियाजाताहै।

मशीनखराबतोकिटेंकहांगई

ब्लडबैंककीकार्यप्रणालीसंदेहकेघेरेमेंहै।क्योंकिजबखूनजांचकरनेवालीमशीनहीखराबपड़ीहुईथीतोउनजांचकिटोंकाक्याकियाजाताथा।क्याउनकोफेंकदियाजाताथायाफिरउनकोकिसीप्राइवेटलैबकेपासबेचदियाजाताथा।यहऐसेसवालहैंजिनकेजवाबअभीतकसेहतविभागकेअधिकारियोंकेपासनहींहैं।

हमअपनीसमझकेअनुसारकार्रवाईकररहेहैं,बाकीतोइसकेबारेमेंमाहिरहीबतापाएंगे।जांचकमेटीद्वाराब्लडबैंककादौराकरमामलेकीजांचकरकेरिपोर्टभेजीहै।डा.अमरीकसिंह,सिविलसर्जन,बठिडा