संवादसूत्र,गंगोलीहाट:बारिशकेचलतेगंगोलीहाटनगरवउसकेआसपासकेग्रामीणक्षेत्रोंकोपेयजलआपूर्तिकरनेवालीसालीखेतलिफ्टपेयजलयोजनाध्वस्तहोनेसेक्षेत्रमेंपेयजलसंकटगहरागयाहै।पेयजलापूर्तिठपहोनेसेक्षेत्रकीकरीब15हजारसेअधिककीआबादीकोखासीपरेशानीकासामनाकरनापड़रहाहै।जलसंस्थानद्वाराटैंकरोंसेपेयजलापूर्तिकरनीपड़रहीहै।

छहरोजपूर्वसालीखेतपेयजलयोजनामेंभारीबोल्डरगिरजानेसे15मीटरलाइनपूरीतरहध्वस्तहोगईथी।इससेनगरवउसकेआसपासकेग्रामीणक्षेत्रोंमेंपेयजलापूर्तिठपहोगई।छहदिनबीतनेकेबादभीअभीतकपाइपलाइनजुड़नहींपाईहै।इससेक्षेत्रमेंपेयजलसंकटगहरातेजारहाहै।लोगोंकोप्राकृतिकजलस्रोतोंसेपानीजुटानापड़रहाहै।प्राकृतिकस्रोतोंमेंपेयजलकेलिएभारीभीड़जुटरहीहै।रविवारकोजलसंस्थानद्वारासड़कसेलगेइलाकोंमेंटैंकरोंसेपेयजलवितरणकियागया।टैंकरकेपहुंचतेहीलोगोंकीलंबीलाइनलगगई,लेकिनलोगोंकोजरूरतकेसापेक्षपानीनहींमिलपारहाहै।वहीं,सड़कसेवंचितइलाकोंमेंतोपेयजलसंकटगंभीरहोगयाहै।ग्रामीणरातभरनौले-धारोंसेपानीजुटारहेहैं।ग्रामीणोंकासारासमयपेयजलकेइंतजाममेंहीव्यतीतहोजारहाहै।इधर,जलसंस्थानकेअवरअभियंतारूपेशआर्यानेबतायाकिबोल्डरोंसेपाइपलाइनदबचुकीहै।बोल्डरतोड़नेकेलिएकंप्रेशरमंगायाजारहाहै।उन्होंनेबतायाकियोजनाकोबहालहोनेमेंएकसप्ताहकासमयऔरलगसकताहै।