जेएनएन,गया। शेरघाटीकेऐतिहासिकदुल्हनमंदिरकीसुरक्षाकीजिम्मेदारीअबपुरातत्वविभागकेहाथमेंहोगी।हटियामुहल्लास्थितदुल्हनमंदिरजीर्णशीर्णहोगयाहै।लेकिनअबइसकेदिनभीबहुरनेकेआसारहैं।इसखबरसेलोगोंमेंखुशीहै

जमींदारकीपत्‍नीनेकरवायाथामंदिरकानिर्माण-

मंदिरसमितिकेपूर्वसचिवरहेअजीतकुमारसिंहनेबतायाकिजमींदारीकालमेंलगभगडेढ़सौवर्षपूर्वइसभव्यमंदिरकानिर्माणतत्कालीनजमींदाररंगलालकुंवरकीपत्‍नीगणेशकुंवरनेकरवायाथा।मंदिरकीलगभग10एकड़जमीनहै।शहरमेंइतनीअधिकसंपत्तिहोनेकेबावजूदमंदिरकारखरखावसहीसेनहींहोरहाहै।मंदिरकेनामपरमुहल्लाकानामकरणदुल्हनमंदिरहोगयाहै।मंदिरकीभव्यताकाअंदाजाइसकेमुख्यदरवाजेसेहीलगायाजासकताहै।स्थानीयशिक्षक,कलाकारवलेखकविजयकुमारदत्तकहतेहैंकियहमंदिरवास्तुकलाकाबेजोड़नमूनाहै।अनुमंडलमेंरामजानकीकाऐसाभव्यमंदिरनहींहै। रखरखावकेअभावकेकारणमंदिरखंडहरमेंतब्दीलहोगयाहै।मुहल्लावासियोंनेबतायाकिप्राचीनमंदिरकेलिएएकअच्छीखबरआईहै।अबइसमंदिरकीदेखभालपुरातत्वविभागकरेगा।

लोगोंनेबतायाकिबिहारसरकारकेपुरातत्वविभागकेसचिवदीपकआनंदनेहालहीमेंएकपत्रजारीकरमंदिरकोपुरातत्वविभागकेअधीनलेनेकीबातकहीहै।इससेमंदिरकेनिखरनेकीउम्‍मीदजगीहै।बिहारसरकारकेपुरातत्वविभागकेपत्रकेअनुसारराज्यकेवैसेसभीधरोहरकेरूपमेंस्थापितमंदिर,स्मारकयाअवशेषकीसुरक्षाएवंसंरक्षणकीजिम्मेदारीपुरातत्वविभागसंभालेगा।पुरातत्वनिदेशालयनेइसबाबतपत्रकेमाध्यमसेसभीसंबंधितविभागकोजानकारीभेजदीहै। जानकारोंऔरस्थानीयलोगोंनेकहाकिदुल्हनमंदिरकीसुरक्षाएवंसंरक्षणकादायित्वपुरातत्वविभागकोमिलनासरकारकाएकबेहतरकदमहै।हमक्षेत्रवासीअबअपनेधरोहरकेसंरक्षणकीचिंतासेमुक्तहोंगे।आशाहैकिदुल्हनमंदिरकाऐतिहासिकगौरवपुनःप्राप्तहोगा।