जागरणसंवाददाता,अमृतसर:श्रीहरिमंदिरसाहिबमेंएसजीपीसीकीओरसेश्रीगुरुरामदासजीकाप्रकाशपर्वश्रद्धाकेसाथमनायागया।इसमौकेपरलाखोंश्रद्धालुश्रीहरिमंदिरसाहिबमेंमाथाटेकनेकेलिएपहुंचे।संगतनेहरिमंदिरसाहिबकेसरोवरमेंस्नानकेबादइलाहीगुरबाणीकाकीर्तनश्रवणकियाऔरपरिवारकीसुखशांतिवसरबतकेभलेकेलिएअरदासकी।

इससेपहलेगुरुद्वारामंजीसाहिबदीवानहालमेंअखंडपाठकेभोगडालेगए।इसकेबादअलग-अलगरागीवढाडीजत्थोंकीओरसेसंगतकोगुरबाणीऔरगुरुघरकेसाथजोड़ागया।प्रकाशपर्वकोमुख्यरखकरश्रीहरिमंदिरसाहिब,श्रीअकालतख्तसाहिबवश्रीअटलरायसाहिबगुरुद्वारामेंसुंदरजलौसजाएगएजोसंगतकेआकर्षणकाकेंद्ररहे।श्रीअकालतख्तसाहिबकेजत्थेदारज्ञानीहरप्रीतसिंह,तख्तकेसगढ़साहिबकेजत्थेदारज्ञानीरघुबीरसिंहऔरएसजीपीसीकीअध्यक्षबीबीजगीरकौरसमेतअलग-अलगपंथकप्रतिनिधिश्रीहरिमंदिरसाहिबमाथाटेकनेकेलिएपहुंचे।उनकोश्रीहरिमंदिरसाहिबकेमुख्यग्रंथीज्ञानीजगतारकीओरसेसिरोपाभेंटकरकेसम्मानितकियागया।इसदौरानअलगअलगसंस्थाओंकीओरसेसंगतकीसुविधाकेलिएलंगरकीव्यवस्थाएंकीहुईथी।कविदरबारमेंगुरुसाहिबकेजीवनसेजुड़ीकविताएंपेशकीं

चौथेपातशाहकेप्रकाशपर्वकेअवसरपरमंजीसाहिबदीवानहालमेंआयोजितकिएमेंकविदरबारमेंपंथककवियोंकीओरसेगुरुसाहिबकेजीवनसेजुड़ीकविताएंपेशकीगई।गुरबाणीपरआधारितरागकीर्तनपेशकिएगए।रागदरबारकेदौरानअकालतख्तसाहिबकेजत्थेदारज्ञानीहरप्रीतसिंहनेसंगतकेसाथविचारसाझाकिए।संगतकोचौथेपातशाहकीशिक्षाओंकेअनुसारजीवनजीनेकासंदेशदिया।इसअवसरपरएसजीपीसीकेअलगअलगपदाधिकारीअजायबसिंहअभियासी,पूर्वजत्थेदारभाईरणजीतसिंह,पूर्वजत्थेदारज्ञानीगुरबचनसिंह,ज्ञानीमोहनसिंह,ज्ञानीजसविदरसिंह,एडवोकेटहरजिदरसिंहधामी,ज्ञानीबलविदरसिंह,महासचिवभगवंतसिंहसियालका,ज्ञानीजगतारसिंहलुधियाना,हरपालसिंहजल्ला,रजिदरसिंहमेहता,मगविदरसिंहखापड़खेड़ी,कुलदीपसिंहतेड़ा,ज्ञानीमलकीयतसिंह,महिदरसिंहआहली,सुखदेवसिंहभूराकोहना,प्रतापसिंह,सुखमिदसिंह,बाबासिंहगुमानपुरा,बीबीगुरमीतकौर,डासुखबीरसिंह,गुरमीतसिंह,हरजापसिंहसुल्तानविड,सुखदेवसिंहभूराकोहना,तेजिदरसिंहपड्डाआदिभीमौजूदथे।रात्रिकोसंगतनेकीदीपमालाऔरचलाईगईआतिशबाजी

प्रकाशपर्वकेअवसरपरसंगतऔरएसजीपीसीकीओरसेसूर्यास्तहोनेपरश्रीहरिमंदिरसाहिबमेंदीपमालाकीगई।श्रीहरिमंदिरसाहिबपरिसरमेंस्थितअलग-अलगगुरुद्वारोंकोविभिन्नतरहकेफूलोंऔररंग-बरंगीलाइटोंसेसजायागयाथा।रातकोएसजीपीसीकीओरसेभव्यआतिशबाजीहरिमंदिरसाहिबपरिसरमेंकीगई।वहींशहरकेअलग-अलगक्षेत्रोंमेंइमारतोंपरभीलडि़यांलगाकररोशनीकीगईथी।लोगोंनेभीगुरुसाहिबकेप्रकाशपर्वपरघरोंमेंदीपमालाकी।