महावीरयादव,बादशाहपुर:

पांचअगस्तकोअयोध्यामेंश्रीराममंदिरनिर्माणकेलिएभूमिपूजनकोलेकरजहांलोगोंमेंउत्साहदिखरहाहै,वहींविश्वहिदूपरिषदकीजिलाइकाईनेइसकार्यक्रमकोबेहदभक्तिमयबनादियाहै।विश्वहिदूपरिषदनेजिलेकेमुख्य21मंदिरोंकीरज(मिट्टी)एकत्रितकीहै।मंदिरोंसेरजएकत्रितकरनेकेसाथसभीमंदिरोंसेजलभीलियागयाहै।सेक्टर-23स्थितशक्तिमंदिरमेंइसरजकाविधिवतपूजनकरशनिवारकोअयोध्याभेजाजाएगा।

विश्वहिदूपरिषदनेअयोध्यामेंभगवानश्रीरामकेभव्यमंदिरनिर्माणकेभूमिपूजनकार्यक्रमकोभक्तिमयबनाकरलोगोंकोजोड़नेकाप्रयासकियाहैं।शहरकेसभीप्राचीनवलोगोंकेआस्थाकेकेंद्रमंदिरोंकीरजऔरजलएकत्रितकियागयाहै।शहरकेअलावाग्रामीणक्षेत्रोंकेप्राचीनमंदिरोंकीरजभीशामिलकीगईहै।सभीमंदिरोंकीमिट्टीऔरजलकोकलशमेंएकत्रितकरसेक्टर21स्थितशक्तिमंदिरमेंरखागयाहै।इसकाविधिविधानसेपूजनकियागया।शनिवारकोएकत्रितकीगईमिट्टीऔरजलकोअयोध्याभेजाजाएगा।इसकेलिएशक्तिमंदिर,शीतलामातामंदिर,शिवमंदिर,सिद्धेश्वरमंदिर,भूतेश्वरमंदिर,प्रेममंदिर,सुदर्शनमंदिर,मांचितपूर्णीमंदिर,बाबाप्रकाशपुरीमंदिर,बाबारूपादासमंदिर,भुवनेश्वरमंदिरभोंडसी,हरीमंदिरपटौदी,शिवमंदिरइच्छापुरी,नूरगढ़आश्रम,दौलताबादकूणी,डाडावासमंदिर,राधाकृष्णमंदिरबादशाहपुरगोविदमंदिरबादशाहपुरकापानीऔरराजलीगईहै।विश्वहिदूपरिषदकेजिलाध्यक्षअजीतयादवनेबतायाकिभगवानश्रीरामकेभव्यमंदिरकानिर्माणअयोध्यामेंशुरूहोनेजारहाहै।यहसभीकेलिएहर्षकाविषयहै।भूमिपूजनकार्यक्रमकोउत्सवकेरूपमेंमनायाजाएगा।इसकार्यक्रमसेसभीलोगोंकोजोड़नेकेलिएविश्वहिदूपरिषदने21मंदिरोंकीमिट्टीऔरजलएकत्रितकियाहै।जोशनिवारकोअयोध्याभेजाजाएगा।