नईदिल्‍लीपूर्वकैबिनेटमंत्रीऔरभारतीयजनतापार्टी(BJP)केसंस्‍थापकसदस्‍योंमेंसेएकजसवंतसिंहकानिधनहोगयाहै।वह82सालकेथेऔरपिछलेछहसालसेकोमामेंथे।दिल्‍लीकेआर्मीअस्‍पतालकीओरसेजारीबयानकेअनुसार,'पूर्वकैबिनेटमंत्रीमेजरजसवंतसिंह(रिटा)काआजसुबह6.55बजेनिधनहोगया।उन्‍हेंजूनकोभर्तीकरायागयाथाऔरसेप्सिसकेसाथमल्‍टीऑर्गनडिसफंक्‍शनसिंड्रोमकाइलाजचलरहाथा।उन्‍हेंआजसुबहकार्डियकअरेस्‍टआया।उनकाकोविडस्‍टेटसनिगेटिवहै।'रक्षाकेअलावावित्‍तऔरविदेशमंत्रालयभीसंभालाभारतीयसेनामेंमेजररहेजसवंतसिंहनेबादमेंराजनीतिकादामनथामलियाथा।बीजेपीकीस्‍थापनाकरनेवालेनेताओंमेंशामिलजसवंतनेराज्‍यसभाऔरलोकसभा,दोनोंसदनोंमेंबीजेपीकाप्रतिनिधित्‍वकिया।पूर्वप्रधानमंत्रीअटलबिहारीवाजपेयीकेनेतृत्‍ववालीसरकारमेंउन्‍होंने1996से2004केबीचरक्षा,विदेशऔरवित्‍तजैसेमंत्रालयोंकाजिम्‍मासंभाला।बतौरवित्‍तमंत्रीजसवंतसिंहनेस्‍टेटवैल्‍यूऐडेडटैक्‍स(VAT)कीशुरुआतकीजिससेराज्‍योंकोज्‍यादाराजस्‍वमिलनाशुरूहुआ।उन्‍होंनेकस्‍टमड्यूटीभीघटादीथी।2014मेंबीजेपीनेसिंहकोबाड़मेरसेलोकसभाचुनावकाटिकटनहींदियाथा।नाराजजसवंतनेपार्टीछोड़करनिर्दलीयचुनावलड़ामगरहारगएथे।उसीसालउन्‍हेंसिरमेंगंभीरचोटेंआईं,तबसेवहकोमामेंथे।पीएममोदीनेमानवेंद्रकोकियाफोनप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीनेजसवंतकेबेटेमानवेंद्रसेफोनपरबातकीऔरअपनीसंवेदनाएंप्रकटकीं।मोदीनेएकट्वीटमेंकहा,'जसवंतसिंहजीनेपहलेएकसैनिककेरूपमेंदेशकीसेवाकी,फिरराजनीतिकेसाथलंबेवक्‍ततकजुड़ेरहकर।अटलीकीसरकारमें,उन्‍होंनेमहत्‍चपूर्णविभागसंभालेऔरवित्‍त,रक्षातथाविदेशमामलोंकेक्षेत्रमेंअपनीछापछोड़ी।उनकेनिधनसेदुखीहूं।उन्‍हेंराजनीतिऔरसमाजकेविषयोंपरअनूठेनजरिएकेलिएयादकियाजाएगा।उन्‍होंनेबीजेपीकोमजबूतकरनेमेंभीयोगदानदिा।मैंहमेशाहमदोनोंकेबीचहुईबातचीतयादरखूंगा।'रक्षामंत्रीराजनाथसिंहनेलिखा,'बीजेपीकेदिग्‍गजऔरपूर्वमंत्रीजसवंतसिंहकेनिधनसेबेहददुखीहूं।उन्‍होंनेरक्षामंत्रीसमेतकईअहमपदोंपरदेशकीसेवाकी।बतौरमंत्रीऔरसांसदउनकाकार्यकालयादगाररहाहै।जसवंतसिंहजीकोउनकीबौद्धिकक्षमताओंऔरदेशसेवाकीशानदाररिकॉर्डकेलिएयादकियाजाएगा।उन्‍होंनेराजस्‍थानमेंभाजपाकोमजबूतकरनेमेंअहमभूमिकानिभाई।इसदुखकीघड़ीमेंउनकेपरिवारऔरसमर्थकोंकेप्रतिसंवेदनाएं।'विदेशमंत्रीडॉएसजयशंकरनेसिंहकोयादकरतेहुएलिखा,'उन्‍हेंपरमाणुशक्तिवालेभारतकीविदेशनीतितैयारकरनेकेलिएखासतौरपरयादकियाजाएगा।विदेशमंत्रीकेरूपमेंउन्‍होंनेभारतीयडिप्‍लोमेट्ससेशानदारकामकराया।'बीजेपीकेराष्‍ट्रीयमहासचिवराममाधव,राजस्‍थानकेमुख्‍यमंत्रीअशोकगहलोत,दिल्‍लीकेमुख्‍यमंत्रीअरविंदकेजरीवाल,डीएमकेअध्यक्षएमकेस्‍टालिननेजसवंतसिंहकेनिधनपरशोकव्‍यक्तिकियाहै।