जेएनएन,उझानी:पड़ोसियोंकोफंसानेकोभाईकाअपहरणकरहत्याकरनेकामुकदमादर्जकराया।आरोपितभीबीतेचारमाहसेतनावमेंथे।लाशभीबरामदनहींहुई।कोईसुरागभीनहींमिलसका।इससेपुलिसभीपरेशानथी।खुफियातंत्रकेसहारेपुलिसनेचौंकानेवालाराजफाशकियाहै।जिसकेअपहरणकेबादहत्याकामुकदमालिखायागयाथा।उसेउसकेघरसेबरामदकियाहै।

सुकुटियागांवनिवासीमलखानकापुत्रधनवीरपिछलेवर्ष10नवंबरकोरहस्यमयपरिस्थितियोंमेंगायबहोगया।भाईश्यामसिंहनेकोतवालीमेंगुमशुदगीदर्जकराई।पुलिसमामलेकोसंदिग्धमानकरछानबीनकररहीथी।इसीबीचश्यामसिंहनेअपनेपड़ोसीसोहनलाल,अमृत,अतुल,विजयकेखिलाफअपहरणकरहत्याकाआरोपलगान्यायालयमेंअर्जीदेदी।कोर्टकेआदेशपरचारोंकेखिलाफधनवीरकेअपहरणवहत्याकरनेऔरलाशगायबकरनेकेआरोपमेंमुकदमादर्जकिया।उपनिरीक्षकजयप्रकाशकोविवेचनासौंपी।उनकेस्थानांतरणकेबादयहविवेचनाउपनिरीक्षकशिवेंद्रसिंहभदौरियाकोसौंपदीगई।हत्याकासुरागनहींमिलनेसेपुलिसपरेशानथी।फिरपुलिसनेखुफियातंत्रलगाकरश्यामसिंहकेपरिवारपरनजररखनीशुरूकी।पुलिसकोधनवीरकेजिदाहोनेकीभनकमिलीतोचौकन्नाहोगई।पुख्ताजानकारीपरउपनिरीक्षकशिवेंद्रसिंहभदौरिया,कांस्टेबलकुशकांत,धर्मेंद्रकेसाथदबिशदेकरघरसेहीधनवीरकोजिदाबरामदकरलिया।पुलिसनेधनवीरसिंहऔरश्यामसिंहकोसाजिशरचकरपड़ोसियोंकोफंसानेकीकोशिशकरनेकेआरोपमेंजेलभेजा।अपहरणकरहत्याकेबादशवठिकानेलगानेकेझूठेड्रामेकापटाक्षेपहोजानेसेउनपड़ोसियोंकोबहुतराहतमिलीहैजोपिछलेचारमहीनेसेतनावमेंगुजाररहेथे।कोतवालविशालप्रतापसिंहनेबतायाकिदोनोंभाइयोंकोजेलभेजदियाहै।इसकीरिपोर्टअदालतमेंप्रस्तुतकीजाएगी।