नयीदिल्ली,पांचअगस्त::राष्ट्रीयहरितअधिकरण:एनजीटी:नेउत्तरप्रदेशऔरउत्तराखंडसरकारोंकोनिर्देशदियाकिजंगलोंमंेआगरोकनेतथानियंत्रणकेलिएसंकटप्रबंधनयोजनादोहफ्तेमेंपर्यावरणएवंवनमंत्रालयकोसौंपीजाए।एनजीटीप्रमुखन्यायमूर्तिस्वतंत्रकुमारकीअध्यक्षतावालीपीठनेइसतथ्यपरआपत्तिजताईकिवर्ष2010सेप्रबंधनयोजनाकामुद्दालंबितहै।पीठनेमंत्रालयकोउनराज्यांेकेबारेमेजानकारीदेनेकोकहाजिन्हांेनेजंगलमंेआगपरप्रबंधनयोजनानहींसौंपीहै।पीठनेकहा,हमनिर्देशदेतेहैंकिउत्तरप्रदेशऔरउत्तराखंडराज्यपर्यावरणएवंवनमंत्रालयकोजंगलमेंआगकीरोकथामएवंनियंत्रणकेलिएउनकेद्वारातैयारप्रबंधनयोजनादोहफ्तेमंेसौंपे।पीठनेसरकारांेकोयहभीनिर्देशदियाकिवेइनआगकीघटनाओंकेकारणबताएंजोउन्हंेअपनेअध्ययनकेदौरानपतालगीऔरतैयारकीगईकार्ययोजनाकेबारेमेंभीजानकारीदें।पीठनेवरिष्ठअधिवक्ताराजीवदत्ताद्वारादायरयाचिकापरसुनवाईकरतेहुएकहाकिचूकहोनेपरमंत्रालयऔरदोनोंराज्यभारीजुर्मानेकेभागीहोंगेजो50हजाररूपयेसेकमनहींहोगा।मामलेकीअलीसुनवाई27सितम्बरकोहोगी।