जागरणसंवाददाता,मथुरा:गोरखपुरमेंगोरखनाथमंदिरपरहुईआतंकीघटनाकेबादमथुराकोहाईअलर्टकरदियागयाहै।मंगलवारकोएडीजी(सुरक्षा)विनोदकुमारसिंहनेश्रीकृष्णजन्मभूमिऔरशाहीमस्जिदईदगाहकीसुरक्षाव्यवस्थाकोपरखा।स्थानीयसमन्वयसुरक्षासमितिकेसाथहुईबैठकमेंदोनोंधर्मस्थलोंकेबाहर300मीटरदायरेमेंसघननिगरानीकेलिएसीसीटीवीकैमरेबढ़ाएजानेकीजरूरतमहसूसकीगई।यलोजोनकादायराभीबढ़ायाजासकताहै।तयकियागयाकिआइजीरेंजकीअध्यक्षतामेंसमितिसुरक्षाकानयाखाकाखींचेगी।श्रीकृष्णजन्मभूमिऔरशाहीमस्जिदईदगाहकीत्रिस्तरीय(रेड,यलोऔरग्रीनजोन)सुरक्षाव्यवस्थाहै।

मंगलवारकोपुलिसलाइनमेंआहूतइसबैठकमेंधर्मस्थलोंकेबाहरस्थितयलोजोनकीसुरक्षाबढ़ानेपरमंथनहुआ।तीनसौमीटरकेइसजोनकादायराभीबढ़ायाजासकताहै।छहदिसंबरकोशाहीमस्जिदईदगाहमेंलड़्डूगोपालकेजलाभिषेककोलेकरभीइंटरनेटमीडियापरअपीलकेबादभीड़उमड़ी।बैठकमेंऐसेमामलोंकोरोकनेकेउपायोंपरचर्चाहुई।समीक्षाबैठककेबादमीडियासेबातचीतमेंएडीजीसुरक्षाविनोदकुमारसिंहनेकहाकिदोनोंहीधार्मिकस्थलोंकानिरीक्षणकरजोचुनौतियांहैं,उसकोसमझनेकीकोशिशकीहै।सुरक्षाव्यवस्थामेंनएआयामजोड़नेपरभीगहनतासेमंथनकियागयाहै।इसमेंकुछनयाकियाजाएगा।नयाक्याहोगा,इसपरवहकुछनहींबोले।

अयोध्यामेंराममंदिरकीसुरक्षाकोलेकरएडीजीनेकहाकिवहांअस्थाईमंदिरकीपहलेसेसुरक्षाहै।मंदिरनिर्माणसेलेकरमंदिरतैयारहोनेतकअलग-अलगस्तरपरसुरक्षाव्यवस्थाहैं।हालहीमेंकाशीविश्वनाथमंदिरकाविस्तारहुआ।उसकीसुरक्षाभीउसीकेअनुसारकीगईहै।कहाकिवृंदावनकेप्रमुखमंदिरोंकीसुरक्षाकोलेकरविचारकियाजारहाहै।येहैंजोन

रेडजोन:इसदायरेमेंशाहीमस्जिदईदगाहऔरश्रीकृष्णजन्मस्थानपरिसरहै।यहांसीआरपीएफसुरक्षाव्यवस्थासंभालतीहै।

यलोजोन:परिसरकेबाहरतीनसौमीटरकादायरा।यहांपीएसीऔरपुलिससुरक्षाव्यवस्थाकरतीहै।

ग्रीनजोन:तीनसौमीटरकेबादकासाराइलाका।यहांपुलिसकीसुरक्षाव्यवस्थारहतीहै।निरीक्षणऔरबैठकमेंयेरहेमौजूद

आइजीनचिकेताझा,आइजीसीआरपीएफप्रकाशडी,डीएमनवनीतसिंहचहल,एसएसपीडा.गौरवग्रोवर,नगरआयुक्तअनुनयझा,सिटीमजिस्ट्रेटजवाहरलालश्रीवास्तव,कमांडेंटसीआरपीएफदेवेंद्रसिहऔरकमांडेंटपीएसीआशुतोषपांडेयसमेतसुरक्षाकीस्थायीसमितिकेसभीसदस्यमौजूदथे।