-मंदिरोंमेंघंट-घड़ियालकीध्वनिसेगुंजायमानहुआवातावरण

-नारियल-चुनरीवफूल-मालाकेसाथफलाहारकीबिक्रीतेज

जागरणसंवाददाता,आजमगढ़:शारदीयनवरात्रमेंपूराजनपददेवीआराधनामेंलीनसाहोगयाहै।सप्तमीपरकालरात्रिकीस्तुतिकोमंदिरोंमेंश्रद्धालुओंकीभीड़बढ़गई।सुबहसेहीहरकोईअपनेहिसाबसेपूजा-अर्चनाकररहाथा।मंदिरोंमेंघंट-घड़ियालकीध्वनिसेपूरावातावरणगुंजायमानहोउठातोघर-घरमेंमांदुर्गाकीआरतीसेआसपासकावातावरणभीभक्तिमयहोगया।

घरोंमेंस्थापितकलशकेसामनेकोईदुर्गासप्तशतीकापाठकररहाहैतोकहींदुर्गाचालीसाकापाठहोरहाहै।

शहरकेमुख्यचौकस्थितसिद्धस्थलदक्षिणमुखीदेवीमंदिर,कोलघाटगांवकेरमायनमार्केटस्थितदुर्गाशिवसाईमंदिर,बड़ादेव,रैदोपुरस्थितदुर्गामंदिर,पल्हनाक्षेत्रकेपाल्हमेश्वरीधाम,निजामाबादक्षेत्रकेशीतलामातामंदिरपरश्रद्धालुओंकीभारीभीड़उमड़ी।भक्तोंनेकालरात्रिकेस्वरूपकीपूजाकी।

उधरनवरात्रकीअष्टमीतिथिमेंविध्याचलऔरचौकियाधामकेदर्शनकरनेवालोंकीदोपहरबादसेरवानगीशुरूहोगई।रोडवेजपरजौनपुरकीओरजानेवालीबसोंमेंसीटमिलनामुश्किलथा।व्रतपर्वकोदेखतेहुएसड़ककेकिनारेभीनारियल-चुनरीऔरफूल-मालाकेसाथफलाहारकीबिक्रीतेजहोगई।चाय-पानकेदुकानदारभीसाफ-सफाईकापूराध्यानदेरहेहै।