राज्यब्यूरो,देहरादून।कोरोनाकालमेंकोरोनायाअन्यबीमारीसेमाता-पिताअथवाअभिभावकखोचुकेबच्चोंकेलिएशुरूकीगईमुख्यमंत्रीवात्सल्ययोजनाकाअबउन्हेंसहीमायनेमेंलाभमिलसकेगा।महिलासशक्तीकरणएवंबालविकासमंत्रीरेखाआर्यकेमुताबिकऐसेबच्चोंकेलिएयोजनाकेतहतसंबंधितविभागोंनेशासनादेशजारीकरदिएहैं।उन्होंनेकहाकिसरकारइनबच्चोंकापूरीतरहख्यालरखेगी,ताकिउन्हेंकिसीप्रकारकीदिक्कतकासामनानकरनापड़े।

मुख्यमंत्रीपुष्करसिंहधामीऔरकैबिनेटमंत्रीमंत्रीरेखाआर्यनेदोअगस्तकोमुख्यमंत्रीवात्सल्ययोजनालांचकीथी।योजनाकेतहतअनाथबच्चोंको21वर्षकीआयुतकप्रतिमाहतीनहजाररुपयेकीआर्थिकसहायतामहिलासशक्तीकरणएवंबालविकासविभागदेगा।साथहीऐसेबच्चोंकेलिएनिश्शुल्कशिक्षा,खाद्यसामग्री,कौशलविकास,स्वास्थ्यसुविधा,शासकीयसेवाओंमेंक्षैतिजआरक्षणसमेतअन्यप्रविधानकिएगएहैं।महिलासशक्तीकरणएवंबालविकासविभागकीओरसेऐसेबच्चोंकोआर्थिकसहायतादीजारहीहै,लेकिनपूर्वमेंअन्यविभागोंनेखासदिलचस्पीनहींदिखाई।विभागोंकेरवैयेपरतबमंत्रीआर्यनेनाराजगीजताईथी।साथहीमुख्यसचिवकोपत्रभीलिखाथा।

कैबिनेटमंत्रीरेखाआर्यकेमुताबिकअबमाध्यमिकशिक्षा,उच्चशिक्षा,तकनीकीशिक्षा,स्वास्थ्य,समाजकल्याण,खाद्यएवंनागरिकआपूर्ति,कौशलविकासएवंसेवायोजनसमेतसभीविभागोंनेवात्सल्ययोजनासेसंबंधितशासनादेशजारीकरदिएहैं।उन्होंनेकहाकिकोविडअथवाअन्यबीमारियोंकेकारणजिनबच्चोंनेमाता-पितावअभिभावकोंकोखोयाहै,उन्हेंसंबलदेनेकीकड़ीमेंयहयोजनालांचकीगईहै।

बच्चोंकीढालबनेगीउनकीबुआ

मंत्रीआर्यनेकहाकिवात्सल्ययोजनाकेअंतर्गतआनेवालेबच्चोंकावहबुआकीतरहख्यालरखेंगी।ऐसेबच्चोंकोकिसीभीप्रकारकीदिक्कतहोनेपरउनकीयहबुआढालबनकरकामकरेगी।

यहभीपढ़ें:-उत्तराखंडमें2196बच्चोंकोमिलेगासरकारका'वात्सल्य',CMधामीनेलांचकीयोजना;जानिएइसकेबारेमें