रायबरेली:सर्दीकेसाथबढ़रहेचोरीकीवारदातोंसेपुलिसकेदावोंकीपोलखुलनेलगीहै।रातगश्तकेबावजूदचोरमंसूबेमेंसफलहोरहेहैं।वहींखुलासाकेनामपरखाकीकीओरसेकागजीकोरमपूराकियाजारहाहै।हरबाररटारटायाजवाबकिजल्दखुलासाहोजाएगाकहकरकिनाराकररहेहैं।मातामिढुरिनमंदिरकातो16दिनबादभीकुछपतानहींचला।सीओनेमंदिरकेपदाधिकारियोंसेएकसप्ताहकेअंदरखुलासाकरनेतककाआश्वासनदियाथा।सबसेखासबातयहांपरदोचोरोंकेचेहरेसीसीकैमरेमेंकैदहैं।कागजोंपरदोटीमभीगठितहुई।आधादर्जनसंदिग्धोंपूछताछ,लेकिननतीजासिफररहा।

पहलीघटनापांचजनवरीकीरातमेंमातामिढ़ुरिनमंदिरमेंचोरोंनेलोहेकीजंजीरकाटकरपीतलकेलगभगदोक्विंटलघंटे,चांदीकामुकुटवमाताजीकेऊपरचढ़ासोनेवचांदीकेजेवरातउठालेगए।मंदिरकेअंदररखादानपात्रभीतोड़डाला।मंदिरकेपुजारीरामदेवमिश्रकीसूचनापरचौकीप्रभारीविजयनारायणशुक्लामौकेपरपहुंचे।इसकेबदसलोनसीओरामकिशोरसिंह,डीहथानाध्यक्षराकेशसिंहयादवदलबलकेसाथआकरतेजीदिखाई।मातामिढुरिनदेवीजनसेवासंस्थानप्रबंधकगोपालश्रीवास्तवनेअज्ञातलोगोंकेखिलाफमुकदमालिखाया।अभीतकखाकीकेहाथखालीहैं।इसकेबाद11जनवरीकीरातसाकेतनगरचौराहेपरदेशीशराबकीदुकानमेंसेंधकाटकर12पेटीशराबव9300रुपयेनगदउठालेगए।दोनोंमामलोंमेंपुलिसकोकोईसफलतानहींमिली।सीओरामकिशोरसिंहनेबतायाकिचोरीकेखुलासेकेलिएपुलिसपूराप्रयासकररहीहै।जल्दहीखुलासाकियाजायेगा।