संवादसहयोगी,खटीमा:गौरवसेनानीकल्याणसमितिनेसीएसडीकैंटीनकोअस्थाईरुपसेपुरानेसरकारीअस्पतालमेंखोलेजानेकीमांगकीहै।इसआशयकाज्ञापनभीसमितिनेविधायकपुष्करसिंहधामीकोसौंपाहै।विधायकनेडीएमकोइससंबंधमेंअनुमतिदेनेकोकहाहै।

सेनानीकल्याणसमितिमेंजुड़ेपूर्वसैनिकबुधवारकोविधायकधामीसेमिले।जहांउन्होंनेकहाकिविधायककेप्रयासोंकेलंबेसंघर्षकेबादसीमांतमेंआर्मीकैंटीनखुलनेजारहीहै।जिसकेलिएखेतलसंडाखाममेंभूमिभीस्वीकृतहोचुकीहै।जल्दहीइसकेनिर्माणकीप्रक्रियाभीशुरुहोजाएगी।उन्होंनेकहाकिजबतकसीएसडीकैंटीनकानिर्माणनहींहोजाता।तबतककेलिएपुरानेसरकारीअस्पतालकेखालीपड़ेभवनमेंअस्थाईरुपसेकैंटीनखोलदीजाए।इसकेखुलनेसेपूर्वसैनिकोंकोखासीमददमिलसकेगी।उनके40किलोमीटरदूरजानेकेसाथसमयकीबचतहोसकेगी।इसपरविधायकधामीनेजिलाधिकारीरंजनाराजगुरुकोपत्रभेजकरअवगतकरायाकियहक्षेत्रसैनिकबाहुल्यहै।सैनिककल्याणबोर्डद्वारासैनिकोंकेहितमेंकैंटीनसंचालितकरनेकीअनुमतिप्रदानकरदीगईहै।इसलिएजनहितकोदेखतेहुएपुरानेसरकारीअस्पतालमेंअस्थाईरुपसेकैंटीनसंचालितकरनेकीअनुमतिप्रदानकीदीजाए।इसमौकेपरसमितिअध्यक्षगंभीरसिंहधामी,गोविंदसिंहराठौर,भगवानसिंह,नारायणसिंहसौन,जगदीशसामंत,प्रेमचंद,मनोहरसिंह,त्रिलोकसिंह,हरीचंद,हरीदत्त,गुमानसिंह,दिवानसिंह,बलवीरचंद,लक्ष्मीदत्त,लालसिंहरावत,महेंद्रसिंहआदिमौजूदथे।