संवादसहयोगी,फगवाड़ा:मीरी-पीरीअकालदरबार(विद्यालय)साहिबगावडुमेलीमेंछठीपातशाहीश्रीगुरुहरगोबिंदसाहिबवनौंवीपातशाहीश्रीगुरुतेगबहादुरजीकी400वेंप्रकाशपर्वकोसमर्पितगुरमतिसमारोहबाबाबलविंदरसिंहडुमेलीकेनेतृत्वमेंसंगतकेसहयोगसेकरवायागया।श्रीगुरुग्रंथसाहबजीकीछत्रछायामेंकरवाएगएगुरमतिसमारोहकेदौरानसुबहश्रीअखंडपाठसाहिबकेभोगडालेगए।इसकेबादसरबतकेभलेकीअरदासहुई।कीर्तनीजत्थादविंदरसिंहनिरवाणअमृतसर,बहुलतलीनसिंहअकालीजत्था,मलकीतसिंहखानपुरथियाड़ाकेअलावाढाडीजत्थागुरजंटसिंहवगुरप्रीतसिंहलाडराचंडीगढ़वालोंनेरुहानीकीर्तनएवंढाडीवारोंसेसंगतकोनिहालकिया।समागमकेदौरानविशेषतौरपरपहुंचेसंतबाबाअवतारसिंहसुरसिंहवाले,बाबागज्जणसिंहबाबाबकाला,सिंहसाहिबज्ञानीजगतारसिंहवसिंहसाहिबज्ञानीमलकीतसिंहहेडगंथीश्रीदरबारसाहिबअमृतसर,बाबाहरीसिंह,बाबाअनहदराजसिंहलुधियाना,बाबाहरीसिंहतरनादल,बाबाहरविंदरसिंहभोगपुर,ज्ञानीजीतासिंहदमदमीटकसाल,बाबातरसेमसिंहमेहताचौक,बाबादविंदरसिंहकपूरथलानेगुरुग्रंथसाहिबकीशिक्षाओंकोअपनानेकासंदेशदिया।अंतमेंबाबाबलविंदरसिंहनेसंगत,गणमान्यवसहयोगियोंकाधन्यवादकिया।समारोहकेदौरानगणमान्योंकोसम्मानितकियागया।मंचसंचालनजतिंदरसिंहचंडीगढ़वालोंनेकिया।संगतकेलिएचायपकौड़े,ठंडेमीठेजलकीसेवाऔरगुरुघरकालंगरअटूटबरतायागया।इसअवसरपरबाबाअर्जनसिंह,मनदीपसिंहजौहल,जतिन्दरसिंहनिझ्झर,गुरदीपसिंह,मघ्घरसिंह,मक्खणसिंह,रमनदीपसिंहनिझ्झर,परमिंदरसिंहसरपंचमूसापुर,सतवीरसिंह,डा.गुरदयालसिंह,सुखवीरसिंहसुक्खा,साबीजेठपुर,अमृतपालसलेमपुर,संदीपसिंहमूसापुर,नवजालंधर,ओंकारसिंहमूसापुर,मनप्रीतसिंहजगजीतपुर,सुक्खापुन्नी,बिंदुकठार,करनवीरडुमेली,राजाडुमेली,सतींद्रसिंहडुमेली,बलजिन्दरसिंहनिझ्झर,सुखसिंह,मनजीतसिंहडुमेली,केसरसिंह,फीरासिंहडुमेली,शिंदानिजामदीनपुर,रागीसरूपसिंह,गोनीसलेमपुर,चन्नीडुमेली,प्रभबासीआदिउपस्थितथे।