संवादसहयोगी,हाथरस:सरकारद्वाराजनहितमेंअनेकोंकल्याणकारीयोजनाएंचलाईजारहीहैं।इनमेंकिसानमानधन,सुमंगला,आयुष्मानआदियोजनाएंकिसानोंकेलिएमहत्वपूर्णहैं।इनयोजनाओंकालाभकिसानोंकोमिलसकेइसकेलिएसरकारद्वाराजनहितमेंइनकाखूबप्रचार-प्रसारभीकरायाजारहाहै।केंद्रवप्रदेशसरकारकिसानोंकेहितोंकोप्राथमिकताभीदेरहीहैं।

यहउद्गारमेलाश्रीदाऊजीमहाराजकेरिसीवरशिविरमेंआयोजितकृषिगोष्ठीकाउद्घाटनकरतेहुएमुख्यअतिथिकेरूपमेंमौजूदसदरविधायकहरीशंकरमाहौरनेव्यक्तकिये।इसअवसरपरउपकृषिनिदेशकएचएनसिंहनेकृषिविभागद्वारासंचालितकल्याणकारीयोजनाओंकीजानकारीकिसानोंकोदी।अलीगढ़सेआएउपकृषिनिदेशकशोधवीकेसचाननेघटतेजलस्तरपरचिताजतातेहुएकहाकिअधिकमात्रामेंकियाजाफसलोंमेंकीटनाशकोंकाप्रयोगकिसीभीदशामेंउचितनहींहै।यहमिट्टीकीउर्वराशक्तिकोकमकरनेकेसाथजनजीवनपरहानिकारकप्रभावभीडालताहै।कृषिवैज्ञानिकडा.कमलकांतनेकृषियंत्रोंकीजानकारीदेतेहुएफसलोंकेअवशेषोंकोनजलानेकीअपीलकिसानोंसेकी।

कृषिवैज्ञानिकएसआरसिंहनेधानफसलकेरोगोंकेबारेमेंबतातेहुएउनसेबचनेकेउपायभीकिसानोंकोसुझाए।वहींकृषिविज्ञानकेंद्रकेअध्यक्षडा.एकेसिंहनेफसलप्रबंधनकेबारेमेंकिसानोंकोजागरूककिया।कार्यक्रममेंहाकिमसिंह,चंद्रपालसिंह,गेंदासिंहरावत,विजेंद्रसिंह,भगवतीप्रसादशर्मा,धर्मेंद्र,रामकुमारसिंहआदिकिसानोंकोदाऊबाबाकीतस्वीरआदिदेकरसम्मानितकियागया।संचालनजेकेशर्मानेकिया।इसमौकेपरसीपीशर्मा,श्रीनिवासपचौरी,सुजानसिंह,अनिलउपाध्यायआदिमौजूदथे।