आगरा, जागरणसंवाददाता।किसानआंदोलनकेसमर्थनमेंअधिवक्तासंगठनोंनेछहफरवरीकोन्यायिककार्यसेविरतरहनेकाएलानकियाहै।आगरामेंउच्चन्यायालयखंडपीठस्थापनासंघर्षसमितिऔरडाक्टरआंबेडकरबारएसोसिएशननेशनिवारकोन्यायिककार्यसेविरतरहनेनिर्णयकियाहै।

उच्चन्यायालयखंडपीठस्थापनासंघर्षसमितिद्वाराशुक्रवारकोइसेलेकरबैठकबुलाईगई।इसमेंसमितिनेकिसानआंदोलनकासमर्थनकिया।तीनोंकिसानकानूनोंबिजलीविधेयकऔरएमएसपीपरनयाकानूनलानेकीपुरजोरमांगकी।समितिने26जनवरीकोदिल्लीमेंट्रैक्टररैलीकेदौरानकिसाननेताओंकेखिलाफदर्जकिएगएमुकदमेवापसलेनेऔरआंदोलनकोबदनामकरनेकीनिंदाकी।

बैठकमेंकिसानआंदोलनकेसमर्थनमेंछहफरवरीकोदोपहर11बजेदीवानीपरिसरमेंकिसानआंदोलनकेसमर्थनमेंप्रभातफेरीनिकालनेकाफैसलाकियागया।दीवानीपरिसरमेंउच्चन्यायालयखंडपीठस्थापनासंघर्षसमितिकीबैठककीअध्यक्षतासंयोजकएवंवरिष्ठअधिवक्ताकेडीशर्मावसंचालनअरुणसोलंकीनेकिया।बैठकमेंसुरेंद्रलाखन,दुर्गविजयसिंहभैया,केसीशर्मा,भारतसिंह,नासिरवारसी,केपीसिंहचौहान,रमेशदीक्षितआदिवरिष्ठअधिवक्तामौजूदथे।

वहींडाक्टरआंबेडकरबारएसोसिएशननेभीछहफरवरीकोकिसानआंदोलनकेसमर्थनमेंन्यायिककार्यसेविरतरहनेकाएलानकिया।एसाेसिएशनकेपदाधिकारियोंनेकहाकिकृषिप्रधानदेशमें80फीसदआबादीकिसानोंसेजुड़ीहुईहै।कृषिराज्यसूचीमेंहोनेकेबावजूदभीकिसानविरोधीकानूनलायागया।शुक्रवारकोहुईबैठकमेंवरिष्ठअधिवक्ताकरतारसिंहभारतीय,सूरजभानभारती,खेमचंदशाक्यवार,अमरसिंहकमल,ओपीसिंह,राजेंद्रकुमारकर्दम,जसवंतसिंहराना,डाक्टरराजकुमारआदिमौजूदथे।