गोड्डा:जिलामुख्यालयसेसटीकझियानदीकेमनोरमतटपरअवस्थितहैकन्हवारानागमंदिर।यहांपहलीआद्र्रासेहीभव्यपूजनोत्सवकाआयोजनकियाजाताहै।यहपूजनोत्सवएकपक्षतकजारीरहताहै।सोमवारकोअंतिमआद्र्राकोनागमंदिरमेंविशेषपूजाअर्चनाकीजाएगी।इसदिनआसपासक्षेत्रकेश्रद्धालुओंद्वारानागमंदिरमेंडलियावप्रसादचढ़ानेकाविधानहै।जबकिएकदिनपूर्वरविवारकोमंदिरपरिसरमेंखीरभोजनकाकार्यक्रमआयोजितकियाजाताहै।इसदौरानपूजनवदर्शनकोलेकरआसपासकेश्रद्धालुओंकीभीड़लगीरही,जबकिसोमवारकोयहांबड़ीसंख्यामेंश्रद्धालुओंद्वाराडलियाचढ़ायाजायेगा।मंदिरकेपुजारीअशोकमांझीबतातेहैंकिरविवारएवंसोमवारकोमंदिरपरिसरमेंभारीभीड़लगीरहतीहै।मनोकामनाकोलेकरडलियाचढ़ानेकीप्राचीनपरंपराहै।ग्रामीणसहकन्हवारापंचायतकेमुखियापरमानंदसाहनेबतायाकियहनागमंदिरइसक्षेत्रकेश्रद्धालुओंकेआस्थाकाकेन्द्रबनाहुआहै।यहीकारणहैकियहांपूरीभक्तिवनिष्ठापूर्वकपूजनहोताहै।अंतिमदिननदीकिनारासेलेकरमंदिरतकमेलालगताहै।जहांविविधप्रकारकेसामानोंकीदुकानेंरहतीहै।आसपासकेलोगपूजनसामग्रीसहितमनपसंदवस्तुओंकीखरीदारीकरतेहैं।