संवादसहयोगी,फिरोजपुर:

पिछलेएकवर्षसेलोगकोरोनामहामारीकीमारझेलरहेहैवहींकुदरतनेदोमासूमबच्चियोंकेसिरसेउनकेमांबापकासायाछीनलिया।अबवहबिल्कुलअकेलीरहरहीहै,उनकेखानपानकाध्यानअबउनकेआसपड़ोसवालेवबस्तीटैंकावालीकेचौकीइंचार्जसुखदेवसिंहरखरहेहै।एनआरआइप्रितपालसिंहवमेजरसिंहनेबच्चियोंकेलिएभेजा40हजाररुपएकाचेकभेजाहै।

सुखदेवसिंहनेबतायाकिबस्तीटैंकावालीकीगलीनंबर6मेंरहनेवालीदोमासूमबच्चियोंकेपिताकिपिछलेवर्षनंवबरमेंमौतहोगईथी।मांनेजैसेतैसेकरउनकोपालनाशुरूकिया,लेकिनकुदरतकोकुछओरहीमंजूरथा।अब16मईकोउनकीमांकीभीमौतहोगई।मांकीमौतकेबाददोनोंबच्चियोंकेसिरपरजैसेदुखोंकापहाड़टूटगया।उन्होंनेबतायाकिएकबच्चीकीआयु16वर्षतोदूसरीबच्चीकीआयुमात्रपांचवर्षहै।जबतानियाकीमांकीमौतहुईतोउससमयउनकाकोईभीरिश्तेदारपासनहींथा।

तबउन्होंनेगलीकेकुछलोगोकोसाथलेकरउनकेअंतिमसंस्कारकासाराकार्यपूरेविधिविधानकेसाथकरवाया।इसकेबादउन्होंनेएकनिजीटीवीचैनलकेपत्रकारसेसंर्पककरउनबच्चियोंकीमददकेलिएखबरचलवाईजिसकाबहुतहीअच्छाप्रभावहुआओरउनबच्चियोंकीमददकेलिएबहुतसेहाथआगेआएओरबच्चियोंकीकाफीमददहुई।फिरोजपुरकेडीएसपीवरिदरपालसिंहढिल्लोंकेयूकेकेडर्बीमेंरहनेवालेमित्रप्रितपालसिंहवमेजरसिंहनेउनसेसंपर्ककियाओरबच्चियोंकीमददकेलिए40हजारकाचेकचौकीइंचार्जसुखदेवसिंहकेहाथबच्चियोंकेलिएभेजा।

उन्होंनेकहाकिवहआगेभीबच्चियोंकीहरप्रकारकीमददकेलिएप्रयासरतरहेंगे।उन्होंनेबतायाकिबालभलाईकमेटीद्वाराउनकेमौसामौसीकोकानूनीप्रक्रियाकेबादपालनपोषणकेलिएसौंपदेंगे।