नयीदिल्ली,25जुलाई(भाषा)कर्नाटककेभाजपानेताओंकेएकसमूहनेराज्यमेंकांग्रेस-जद(एस)सरकारकेगिरनेकेबादविकल्पपरचर्चाकेलिएबृहस्पतिवारकोपार्टीअध्यक्षअमितशाहसेमुलाकातकी।पूर्वमुख्यमंत्रीबीएसयेदियुरप्पाकेनेतृत्वमेंप्रदेशभाजपाइकाईअगलीसरकारबनानेकेलिएदावाकरनाचाहतीहै,लेकिनअगलेकदमकेलिएकेंद्रीयनेतृत्वकीअनुमतिकाइंतजारकररहीहै।जगदीशशेट्टार,अरविंदलिंबावली,मधुस्वामी,बसावराजबोम्मईऔरयेदियुरप्पाकेबेटेविजयेंद्रसमेतकर्नाटकभाजपाकेनेताओंनेशाहसेमिलकरराज्यमेंघटनाक्रमतथापार्टीकेसामनेमौजूदविकल्पोंकेबारेमेंचर्चाकी।विधानसभाध्यक्षरमेशकुमारनेकांग्रेस-जद(एस)गठबंधनके15बागीविधायकोंकेत्यागपत्रऔरउन्हेंनिष्कासितकरनेकेलिएपार्टीकीयाचिकाओंपरअभीतकफैसलानहींकियाहै।ऐसेमेंभाजपासावधानीसेकदमबढ़ारहीहैक्योंकिअध्यक्षकेफैसलेकाअगलीसरकारकेभविष्यपरगंभीरअसरहोसकताहै।राज्यको31जुलाईकेपहलेवित्तविधेयकभीपारितकरनाहोगा।सूत्रोंनेबतायाकिमहीनेकेअंततकअगरसरकारइसेनहींरखपाएगीतोविधेयककामार्गप्रशस्तकरनेकेलिएराष्ट्रपतिशासनलागूकरनासंवैधानिकबाध्यताहोगी।इसवजहसेभाजपाभीकानूनीविकल्पोंपरपरामर्शलेरहीहै।