संवादसहयोगी,लोहाघाट:लड़ीधुरामहोत्सवकीआखिरीसांस्कृतिकसंध्याहरियाणा,खटीमा,हिमाचल,जम्मूसेपहुंचेकलाकारोंकेनामरही।मनमोहकप्रस्तुतियोंनेदर्शकोंकोझूमनेकोमजबूरकरदिया।

महोत्सवकीआखिरीसांस्कृतिकसंध्याकाशुभारंभमुख्यअतिथिविधायकपूरनसिंहफत्र्यालनेदीपप्रज्वलितकरकिया।उन्होंनेइसतरहकेमहोत्सवोंकोकुमाऊंनीसंस्कृतिकाध्वजवाहकबताया।जनजागृतिमंचखटीमाकेदलनायककोमलराणाकेनेतृत्वमेंपहुंचीटीमोंने-मांसुनंदातूदैणिहैजाए..,सेकार्यक्रमकाशुभारंभकिया।नंदाराजयात्रा,हीरासमदनी,लालीहोपधानीलालीतिलैधारोबोलाकीमनमोहकप्रस्तुतिदी।हिमाचलकीदलनायकशिवानीकेदिशानिर्देशनमें-कांछाहोकांछा..,योमेरोमन,ठंडीठंडीहवाबड़ीजुल्मीरे,हरियाणाकेकलाकारोंने-बन्नागिरीछबारेहोल्य,जम्मूकश्मीरकेकलाकारोंनेसोनीदीपक्खी,चांदीदीछत्तेकीमनमोहकप्रस्तुतिदेकरदेरराततकदर्शकोंकोझूमनेकेलिएविवशकरदिया।विशिष्टअतिथिगोविंदवर्मा,सुधीरकुमार,रमेशरामलोहिया,जीवनसिंहमेहता,सुषमाफत्र्याल,भूपालसिंहमेहता,कैलाशबगौलीरहे।

समितिकेअध्यक्षनागेंद्रजोशीनेअतिथियोंकास्वागतकिया।संचालनजगदीशसिंहअधिकारीनेकिया।इसदौरानराजेशअधिकारी,प्रकाशसिंह,विनोदसिंह,देवेंद्रअधिकारी,हिमांशुजोशी,प्रदीपढेक,दुर्गेशजोशी,रितेशवर्मा,नवीनजोशीनेविशेषसहयोगकिया।

लड़ीधुरामेंआजनिकलेंगेदेवीरथ

लड़ीधुरामहोत्सवमेंआजकाकड़औरबाराकोटकेदुर्गमपहाड़ियोंसेदेवीरथोंकोमुख्यमंदिरतकलेजायाजाएगा।रथोंकोरस्सोंकेसहारेखींचाजाएगा।देवीरथोंकेदर्शनकेलिएहजारोंकीसंख्यामेंश्रद्धालुओंकेपहुंचनेकाअनुमानहै।