कुशीनगर:कुशीनगरइंटरनेशनलएयरपोर्टका20अक्टूबरकोउद्घाटनकरनेआरहेपीएमनरेंद्रमोदीवअन्यअतिथिबुद्धस्थलीकुशीनगरभीआएंगे।इसकोदेखतेहुएभारतीयपुरातत्वसर्वेक्षणनेमाथाकुंवरबुद्धमंदिरवपरिसरमेंहुएभारीजलभरावकीसमस्याकासमाधानकरलियाहै।अबअतिथियोंकोमंदिरवस्मारकोंकादर्शनकरनेमेंकोईअसुविधानहींहोगी।यहमंदिरजमीनकीसतहसेनीचेहै।भारीबारिशऔरआसपाससेहोरहेजलरिसावकेकारणमंदिरपरिसरमेंभारीजलभरावहोगयाथा।पानीमंदिरकेगर्भगृहमेंभीभरगयाथा।साथहीपरिसरकेस्मारकपानीमेंडूबजानेसेदिखाईनहींपड़रहेथे।इतनाहीनहींमंदिरतकजानेवालेमार्गपरघुटनेतकपानीजमाहोगयाथा।मंदिरमेंबुद्धकी11वींसदीमेंकलचुरिराजाओंद्वाराबनवाईगईभू-स्पर्शमुद्रामें10.5फुटऊंचीप्रतिमास्थापितहै।यह1876कीपुरातात्विकखोदाईमेंइसीस्थानपरप्राप्तहुईथी।इसेबुद्धकाकुशीनगरमेंप्रथमआसनस्थलमानाजाताहै।संरक्षणसहायकशादाबखाननेबतायाकिजलनिकासीकाकार्यचलरहाहै।

संस्कृतिमंत्रालयकीनिदेशकनेलियापीएमकेकार्यक्रमस्थलकाजायजा

भारतसरकारकेसंस्कृतिमंत्रालयकीनिदेशकदीपिकापोखरनानेरविवारकोमहापरिनिर्वाणबुद्धमंदिरकुशीनगरपरिसरकानिरीक्षणकिया।यहां20अक्टूबरकोप्रधानमंत्रीनरेन्द्रमोदीकाकार्यक्रमहोनाहै।

पीएमकुशीनगरइंटरनेशनलएयरपोर्टकाउद्घाटनकरनेकेबादमहापरिनिर्वाणबुद्धमंदिरमेंभगवानबुद्धकीलेटीप्रतिमापरचीवरचढ़ाएंगे।यहांश्रीलंकासेआएडेलिगेशनवदेशकेभिक्षुओंकोसंबोधितकरेंगे।निदेशकनेपीएमकेसंबोधनस्थलपरबनरहेजर्मनहैंगरऔरमंदिरपरिसरमेंआनेवालेमार्गकोदेखा।महापरिनिर्वाणबुद्धमंदिरकेअंदरबुद्धकीलेटीप्रतिमाकेहोरहेकेमिकलट्रीटमेंटकीजानकारीली।स्तूपकीपरिक्रमाकरतेहुएस्मारकोंमेंहुएजलजमावकेसंबंधमेंभारतीयपुरातत्वसर्वेक्षण(भापुस)केअधिकारियोंसेपूछताछकी।निदेशकनेबतायाकिवहयहां20अक्टूबरकोपीएमकेकार्यक्रमकीतैयारियोंकाजायजालेनेआईंथीं।पीएमबुद्धमंदिरकेदर्शनकेबादश्रीलंकाकेडेलिगेशनवदेशकेभिक्षुओंकोसंबोधितकरेंगे।पीएमभिक्षुओंकोचीवरदानकरेंगे।भापुसक्षेत्रीयनिदेशक,मध्यक्षेत्र(भोपाल)पीकेमिश्र,सारनाथकेअधीक्षणपुरातत्वविदअविनाशमोहंती,अभियंताअशोककुमार,वरिष्ठसंरक्षणसहायकपीकेतिवारी,उद्यानसहायकविनीतअग्रवाल,सीएशादाबखान,राजूपीटरआदिउपस्थितरहे।