संवादसहयोगी,द्वाराहाट:ऐतिहासिकबग्वालीमेलेकेदूसरेदिनभीकलाकारोंकीविभिन्नआचलिकप्रस्तुतियोंसेपूराक्षेत्रसराबोररहा।छपेली,झोड़ावअन्यकार्यक्रमोंकेसाथदेररात्रितकदर्शकझूमतेरहे।मेलासमितिनेविभिन्नकलाकारोंकोपुरस्कृतकिया।

विकासखंडकेबग्वालीपोखरमेंभैयादूजकेदिनसेशुरूहुआतीनदिवसीयऐतिहासिकबग्वालीमेलाअपनेपूरेरंगमेंहै।मंगलवारकीदेररात्रितकचलेसास्कृतिककार्यक्रमोंकेबादबुधवारकोभीकलाकारोंनेधूममचाई।हिमाद्रीनेटअल्मोड़ाकेकलाकारोंद्वाराप्रस्तुत'म्यरप्वाबागारे..',मल्लिकालोककलासमितिहल्द्वानीकेलोकगायकपवनकार्कीकेछपेलीगीत'लालीओलालीहौसिया..',उभरतीगायिकारुचिआर्याकी'चर्चाम्यरहैरौछौआजकलपहाड़ोंमें..'कीप्रस्तुतिपरदर्शकखूबथिरके।हिमालयनलोककलाकेंद्रअल्मोड़ाकेकलाकारोंनेभीधार्मिकवआचलिकप्रस्तुतियोंसेखूबधमालमचाया।इसकेअलावाज्ञानोदयशिक्षाकेंद्रबासुलीसेरा,जीजीआइसीबग्वालीपोखर,दीक्षामॉन्टेशरी,दिव्यच्योतिपब्लिकस्कूलकेविद्यार्थियोंनेभीस्थापितकलाकारोंकीप्रस्तुतियोंकोकड़ीटक्करदी।स्वास्थ्यविभागकीओरसेबुधवारकोभीडॉ.ललितपंतवगोविंदमेहताकेनेतृत्वमेंचिकित्सासुविधाप्रदानकीगई।अध्यक्षतावरिष्ठसमाजसेवीकुंदनमेहतावसंचालनमोहनसिंहभंडारीवडॉ.संतोषबिष्टनेकिया।

अतिथियोंकोकियासम्मानित

मेलासमितिनेरवाड़ीकीनवनिर्वाचितजिलापंचायतसदस्यउमाबिष्टकोशॉलओढ़ाकरवमाल्यार्पणकरसम्मानितकिया।जबकिजिलाधिकारीकीप्रतिनिधिकेतौरपरपहुंचीएसडीएमसदरसीमाविश्वकर्मावतहसीलदारसतीशबर्थवालकोस्मृतिचिन्हभेंटकिए।सीमाविश्वकर्मानेमेलेकेपौराणिकस्वरूपकोयथावतबनाएरखनेकेलिएआयोजकोंकीसराहनाकी।कहाकिलोकसंस्कृतिकेसंरक्षणतथाधरोहरोंकोसहेजनेकेलिएसभीकोमिलकरप्रयासकरनेहोंगे।इसकेलिएक्षेत्रमेंलोकप्रकृतिसंस्थाकेगठनकोभीसराहनीयपहलबताया।

तीनदिनीबग्वालीमेलेकेआखिरीदिनआजमीनाबाजारसजेगी।इसकेलिएहल्द्वानी,रामपुर,मुरादाबाद,मेरठ,गाजियाबादसमेतदूरदराजकेपहुंचेव्यापारियोंनेदुकानेंसजादीहैं।मीनाबाजारमेंघरकेउपयोगकासारासामानमिलनेकेकारणयहांदूरदराजकेगांवोंसेभीलोगखरीदारीकरनेपहुंचतेहैं।

मेलासमितिअध्यक्षहरीशसिंहभंडारी,उपाध्यक्ष,उपाध्यक्षरमेशनेगी,सचिवप्रमोदजोशी,कोषाध्यक्षविनोदअधिकारी,सास्कृतिकसचिवडॉदीपकमेहता,त्रिभुवनबिष्ट,जगतसिंह,वीरेंद्रसिंह,जीवनअधिकारी,अजयनेगी,लोकेशअधिकारी,अर्जुनबिष्ट,बलवीरभंडारी,शिवदत्तपाडे,भूपालसिंह,मनोजपाडेआदि।