नईदिल्ली,आइएएनएस।चीनसेएलएसीपरतनावकेदौरानलेहमेंतैनातरहेभारतीयसेनाकेकमांडरलेफ्टिनेंटजनरलहरिंदरसिंहकोअबइसतैनातीसेदेहरादूनस्थितइंडियनमिलेट्रीएकेडमी(आइएमए)मेंकमांडेंटबनाकरभेजदियाहै।सूत्रोंकेअनुसारमौजूदासमयमेंलेहमेंतैनात14कोरकमांडरलेफ्टिनेंटजनरलहरिंदरसिंहकास्थानअबलेफ्टिनेंटजनरलपीजीकेमेनन(PGKMenon)लेंगे।मेनननयाकार्यभारअक्टूबरमध्यमेंसंभाललेंगे।

दूसरीओर,लेहमेंतैनात14कोरकमांडरलेफ्टिनेंटजनरलहरिंदरसिंहएकअक्टूबरसेबतौरकमांडेंटदेहरादूनस्थितइंडियनमिलेट्रीएकेडमी(आइएमए)सेकामकाजसंभालरहेहैं।लेफ्टिनेंटजनरलसिंहहीपहलेदिनसेहीवास्तविकनियंत्रणरेखा(एलएसी)परसेनाकीहरेकगतिविधिपरनजररखतेरहेहैं।सिंहहीअकेलेदमपरभारतऔरचीनकीकोरकमांडरस्तरकीलगातारपांचबैठकोंकानेतृत्वकरचुकेहैं।

21सितंबरकोभारतऔरचीनकेकोरकमांडरोंकीछठीबैठकमेंहीमेनननेबातचीतमेंशिरकतशुरूकी।इसबातचीतकामकसदपिछलेपांचमहीनोंसेसीमापरदोनोंदेशोंकेबीचजारीतनावकोकमकरनाथा।इसदौरानचीननेभारतकोपेंगोंगझीलकेदक्षिणीतटोंसेलगीसामरिकचोटियोंकोखालीकरनेकोकहाहै।चीननेभारतपरदबावडालनेकीनाकामकोशिशकीहै।पिछलेचारमहीनोंमेंदोनोंदेशोंकेबीचयुद्धजैसेहालातबनगएहैं।