लुधियाना,जेएनएन।21वींसदीमेंजबहमविकासकीबातकरतेहैं,तोइसविकासकेकारणपर्यावरणऔरभूजलदिन-प्रतिदिनप्रदूषितहोरहाहै।हमअपनेप्राकृतिकसंसाधनोंकोप्रदूषितकरकेइसविकासकीकीमतचुकारहेहैं।प्राकृतिकसंसाधनोंकेमहत्वकोसमझनेमेंहमेंपहलेहीबहुतदेरहोचुकीहै। अबसमयहैकिहमप्राकृतिकसंसाधनाेंकेसंरक्षणमेंअपनीभागीदारीकरें।प्रगतिशीलकिसानसुगरसिंहऔरगांवरायपुरब्लाकखन्नाकेनरेंद्रसिंहप्राकृतिकसंसाधनोंऔरपर्यावरणकेसंरक्षणमेंमहत्वपूर्णभूमिकानिभारहेहैं।

2017केबादसेधानकीपरालीमेंआगनहींलगाई

किसानसौदागरसिंहऔरनरिंदरसिंहनेबातचीतकेदौरानदोनोंकिसानोंनेकहाकिउन्होंने2017केबादसेअपनेखेतोंमेंधानकीपरालीमेंआगनहींलगाईहै।उन्होंनेकहाकिइससालवहलगभग50एकड़आलूकीखेतीकररहेहै।खेतमेंपरालीकोजमीनमेंमिलाकरआलूकीबुअाईकीजारहीथी।कृषिऔरकिसानकल्याणविभागपंजाबनेभीइससालइनकिसानोंकोमल्चरपरसब्सिडीदीहै,जिसकाउनकाेकाफीलाभमिलरहाहै।

रसायनिकखादऔरकीटनाशकोंकेइस्तेमालसेउगातेहैं सब्जियां

पर्यावरणकेअनुकूलकिसानसौदागरसिंहऔरनरिंदरसिंहदोनोंनेकहाकिवेअपनेघरकेबगीचोंमेंअपनेपरिवारकेलिएबिनारासायनिकखादऔरकीटनाशकोंकेइस्तेमालसेसब्जियांउगातेहैं।इससेउन्हेंआर्गेनिकसब्जियांमिलतीहैंऔरपरिवारभीतंदरुस्तरहताहै।अन्यकिसानोंकोउन्होंनेसुझावदेतेहुएकहाकिपरालीकोआगनलगाकरउसेखेताेंकीमिट्टीमेंमिलाएं,उससेज्यादालाभमिलेगाऔरजमीनभीउपजाऊबनीरहेगी।दोनोंकिसानअन्यकिसानोंकाभीमार्गदर्शनकररहेहैं।इससेदेहातकेगांवाेंमेंखेतीकरनेकेतरीकेमेंबदलावअारहाहै।

पंजाबकीताजाखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें

हरियाणाकीताजाखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें