जागरणटीम,चित्रकूट:शारदीयनवरात्रमेंगुरुवारकोभगवतीकेनौवेंस्वरुपसिद्धदात्रीकापूजनलोगोंनेकिया।भक्तोंनेमंदिरोंवघरोंपरस्तुतिकेसाथकन्याभोजभीहुआ।देवीमंदिरोंमेंसुबहसेदेरराततकमांकेदर्शन,पूजनवप्रसादचढ़ानेचला।जिलेकीपुरानीबाजारवशंकरबाजारस्थितकालीमंदिर,बंधोईनमाता,झारखंडीमाता,मऊआनंदीदेवीमेंदेवीभक्तोंकातांतालगारहा।मांदुर्गाकीनौदेवीपरमशक्तिकानामसिद्धदात्रीहै।जिनकेदर्शनकोदेवीमंदिरोंवपंडालोंमेंसुबहसेदेरराततकभक्तोंकीलंबी-लंबीलाइनलगीरही।हाथोंमेंनारियल,फूल,चुनरीऔरप्रसादमांकोसमर्पितकरनेकेलिएश्रद्धालुलिएखड़ेथे।आरतीढोल,नगाड़ोंऔरघंटोंकेसाथशंखकीध्वनिसेमांकेपरिसरगुंजायमानहोतेरहे।मानिकपुरप्रतिनिधिकेअनुसारकस्बेसमेतपाठाकेग्रामीणअंचलमांकेभक्तिमेंसराबोरहै।जयमांसंतोषीमंदिर,दुर्गामंदिर,घाटीमेंकालीमाता,बरमबाबामेशेरावालीमेदेवीभक्तोंकीभीडलगीरही।कस्बेमेंतीनदर्जनसेअधिकदेवीप्रतिमाएंसजीहैं।पूरेदिनकन्याभोजकेसाथहवनकाकार्यक्रमचलतारहा।वाल्मीकिआश्रममेंमहंतभरतदासनेकन्यापूजनकेसाथभोजकिया।थानाप्रभारीसुभाषचंद्रचौरसिया,एसआईदिनेशसिंहमयपुलिसफोर्सकेसाथतिराहे,चौराहेमेडटेरहे।

गुगौलीमेंकन्याभोजकाहुआआयोजनसंवादसूत्र,चिल्ला:नवदुर्गासमितिकेबैनरतलेगुगौलीगांवमेंकन्याभोजकेसाथभंडारेकाआयोजनकियागया।पंडालमेंदेवीकेदर्शनकेसाथश्रद्धालुओंनेप्रसादग्रहणकिया।

गुगौलीगांवमेंनवदुर्गासमितिकेतत्वावधानमेंपंडालसजाकरप्रतिमाकीस्थापनाकीगईहै।आसपासकेलोगमांकेदर्शनकोपहुंचरहेहैं।समितिनेगुरुवारकोकन्याभोजकेसाथभंडारेकाआयोजनकिया।नवयुवकोंनेप्रसादवितरणकीकमानसंभाली।भंडारेमेंआसपासकेगांवोंकेभीलोगपहुंचेऔरमातारानीकाप्रसादग्रहणकिया।शुभमसिंह,सुनीलसिंह,प्रतापसिंह,इंदलसिंह,बबलीसिंहआदिमौजूदरहे।