जासं,श्रावस्ती:शारदीयनवरात्रमेंचारोंओरआस्थाकीबयारबहरहीहै।घरवमंदिरमांदुर्गाकेजयकारोंसेगुंजायमानहोरहेहैं।बुधवारकोपांचवेंदिनदेवीमंदिरोंमेंश्रद्धालुओंनेमांदुर्गाकेपंचमस्वरूपमातास्कंदमाताकीआराधनाकरभक्तोंनेसुख-समृद्धिकीकामनाकी।

भिनगास्थितराजर्षिकालीमंदिरमेंसुबहहोतेहीश्रद्धालुपहुंचनेलगे।नगरकेनईबाजारस्थितकालीमंदिर,कृष्णानगरवार्डमेंस्थितसमयमातामंदिरपरिसरमेंभीश्रद्धालुपूजन-अर्चनकेलिएभोरहोतेहीपहुंचगए।पूजन-अर्चनकरसुख-समृद्धिकीकामनाकी।जिलेकेसभीदेवीमंदिरोंमेंआस्थाकासैलाबउमड़रहाहै।जिलेभरकेस्थापितदुर्गापूजापंडालोंमेंभक्तोंकीभीड़पूजावआरतीमेंउमड़रहीहै।हरिहरपुररानीब्लॉकक्षेत्रकेकेवलपुरमेंस्थापितदुर्गापूजापंडालमेंपूजनअर्चनवआरतीमेंआसपासकेगांवोंकेभक्तशामिलहोरहेहैं।।नगरकेईदगाहतिराहा,व्यासभवनचौराहा,समयमातामंदिरमेंस्थापितमांदुर्गाकेपूजापंडालोंमेंसुबह-शामहोनेवालीआरतियोंमेंहाथमेंपूजाकीथाललिएखड़ीमहिलाओंकीटोलीदेखतेहीबनतीहै।इकौनानगरस्थितदेवीमंदिर,सिरसियाबाजारस्थितदुर्गामातामंदिर,समयमातामंदिरसमेतजिलेकेसभीदेवीमंदिरोंमेंसुबहसेदेरशामतकश्रद्धालुओंकासैलाबउमड़तारहताहै।शारदीयनवरात्रमेंनौदेवीकीपूजा-अर्चनाकीजारहीहै।दुर्गासप्तशतीवदुर्गाचालीसाकेपाठसेमाहौलभक्तिमयहोरहाहै।हवन-पूजन,अनुष्ठानकेसुगंधमेंवातावरणडूबगयाहै।