भोपालःमध्यप्रदेशकीसत्तामेंआनेकेलिएकांग्रेसपार्टीनेवोटरोंसेकईवादेकिएथे.इन्हींवादोंमेंसेएकवादाथाकन्याविवाहऔरनिकाहयोजनामेंमिलनेवालेपैसोकीबढ़ोतरीका.विधानसभाचुनावकेदौरानकमलनाथकावादाअबउनकीहीसरकारकेलिएगलेकीफांसबनताजारहाहै.कमलनाथनेवादाकियाथाकिअगरकांग्रेसराज्यकीसत्तामेंआतीहैतोकन्याविवाहऔरनिकाहयोजनामेंकन्यादानकीराशिबढ़ाकर51,000रुपयेकरदियाजाएगा.

सरकारकेवादेकीहकीकतयहहैकियोजनाकेतहतदीजानेवालीधनराशिकेलिएसरकारकेखातेमेंपैसेनहींहै.मौजूदावक्तमेंराज्यमेंकईऐसेजोड़ोंहैंजिनकीशादीकेकईमहीनेबादभीपैसेनहींमिलेहैं.

सरकारनेसमाजिकन्यायविभागको29हजार200जोड़ोंकेबीचबांटनेकेलिए65करोड़रुपयेआवंटितकिएथे.खजानेमेंपैसेकीकमीकोदेखतेहुएसरकारअपनेकिएवादोंपरविचारकरनेकीसोचरहीहै.

राज्यसरकाररकमकोआधाकरनेपरविचारकररहीहै.मौजूदस्थितिमेंसरकारको153करोड़रुपयेदेनाहै.कमपैसेआवंटितकरनेकाकराणबतायाजारहाहैसरकारीखजानाखालीहोना. बतादेंकिशिवराजसिंहचौहानकीसरकारमेंइनदोनोंयोजनाओंकेतहत28हजाररुपयेदिएजातेथे.

कोटा:बच्चोंकीमौतपरबोलेCMगहलोत-'CAAविवादसेध्यानहटानेकेलिएउठायाजारहाहैमुद्दा'

आयुष्मानयोजनाकोलागूक्योंनहींकररहीहैकेजरीवालसरकार:TajinderPalSinghBagga