संवादसूत्र,धरमघर:सनगाड़स्थितनौलिगमंदिरमेंदिन-रातचलनेवालेमेलेकाउदघाटनक्षेत्रीयविधायकबलवंतभौर्यालनेकिया।कहाकिमेलेआपसीसौहार्दबढ़ानेमेंसहायकहोतेहैं।यहमेलासांस्कृतिकधाíमकऔरव्यापारिकमेलाहै।इसमंदिरमेंमन्नतपूरीहोतीहै।मन्नतपूरीहोनेकेबादलोगविशेषपूजा-अर्चनाकरनेआतेहैं।यहांस्थानीयसेलेकरबाहरीक्षेत्रसेकलाकारोंनेएकसेबढ़करएकसुंदरकार्यक्रमपेशकिए।

सोमवारकोमंदिरपरिसरमेंमेलाíथयोंकेआनेकासिलसिलाशुरूहोगया।ब्रह्ममूहुर्तमेंपहुंचकरलोगोंनेपासकेसरोवरमेंस्नानकिया।इसकेबादमंदिरमेंपूजा-अर्चनाकी।क्षेत्रीयविधायकभौर्यालनेरंगमंचकाशुभारंभकिया।उन्होंनेकहाइसमेलेकीखासबातयहहैकिइसमेंबागेश्वरतथापिथौरागढ़जिलेकेमेलार्थीआतेहैं।इसमेंनई-नईचाचरियांकीबनतीहैं।दिन-रातकेइसमेलेमेंप्रवासीलोगभीआतेहैं।जोमेलेकाआनंदउठातेहैं।इसमौकेपरप्रकाशमहर,राजेंद्रमहर,सामाजिककार्यकर्तापूरनसिंहगड़िया,ठाकुरसिंहगड़यिा,योगेशहरड़िया,मोहनसिंहमहर,जोगासिंहमेहता,सुंदरमेहरा,अर्जुनभट्टसहितसैकड़ोंकीसंख्यामेंमेलार्थीमौजूदरहे।

कलाकारोंकीप्रस्तुतिपरझूमेलोग

स्थानीयकलाकारपूरनराठौरनेएकसेबढ़करएकसुंदरगीतप्रस्तुतकिए।बादमेंबाहरसेआएकलाकारोंनेरंगारंगकार्यक्रमपेशकिए।कांछूतेराजलेबीकोडाब,मोहना,मोहना,मोहनारटिगो,बेड़ूपाकोबारामासा,सनगाड़ैकिरमुलिदीदीतेरीलटिलैलालरिबनसहितकईमनमोहकगीतप्रस्तुतकिए।मेलाíथयोंनेइनगीतोंकाजमकरआनंदउठाया।मेलासमितिकेअध्यक्षमंगलमहरनेसभीमेलाíथयोंकोस्वागतकिया।संचालनधनसिंहभौर्यालनेकिया।मंदिरकेपुजारीप्रेमसिंहधामीनेसभीलोगोंकोप्रसादवितरणकिया।गौखुरीगांवकेपंडितोंनेपूजाअर्चनाकराई।