जागरणसंवाददाता,नारनौल

शहरमेंपुलिसलाइनकेठीकसामनेस्थितबगीचीबाबादेवदासहनुमानमंदिरकेमहंतरगबीरदासकोकुछलोगोंनेजानसेमारनेकीधमकीदीऔरपिस्तौलदिखाकरधमकाया।आरोपियोंनेमहंतसेखालीकागजोंपरअंगूठालगवालिया।इसकेबादभीमहंतकोकईबारधमकाया।हालांकिमहंतनेपुलिसअधीक्षककमलदीपगोयलकेयहांप्रार्थनापत्रदेकरजानमालकीरक्षाकीगुहारलगाई,लेकिनकोईकार्रवाईनहींहोनेपरआखिरमहंतकोमंदिरछोड़करपलायनकरनापड़गया।पूरीकहानीकेपीछेकुछदबंगलोगोंद्वारामंदिरकीदुकानोंवजमीनपरकब्जाकरनेकीसाजिशबताईगईहै।

पुलिसअधीक्षककोदिएप्रार्थनापत्रमेंमहंतरगबीरदासनेबतायाकिवहसंतमाधोदासजीकाबचपनसेशिष्यहै।गुरुकेसमाधिष्टहोनेकेबादवहइसमंदिरमेंगद्दीनसीनहै।प्रार्थनापत्रमेंकहागयाहैकिसुनील,भूपेंद्र,हर¨सह,अशोक,रामनिवास,बालाजीनिवासीमोहल्लासरायढुसरान,राजूनिवासीनलापुर,विकासनिवासीमो.सरायढुसरानमंदिरकीजमीनपरकब्जाकरनेकेप्रयासमेंहैं।इसीमंशाकोलेकरगतबीसमईकोरातकरीबबारहबजेहथियारोंसेलैसहोकरमंदिरमेंआएऔरभूपेंद्रवसुनीलमहंतकेकक्षमेंजबरनप्रवेशकरगए।दोनोंनेखालीकागजोंपरअंगूठालगानेकादबावबनायाअन्यथाजानसेमारनेकीधमकीदी।आरोपहैकिदोनोंनेमहंतसेजबरनअंगूठालगवालियाऔरजानसेमारनेकीधमकीदेतेहुएचलेगए।इसघटनाकेबादमहंतघबरागया।हालांकिपुलिसअधीक्षककोसमयरहतेप्रार्थनापत्रदेदियाथा,लेकिनपुलिसनेभीअभीतककोईकार्रवाईनहींकी।इससेघबरायामहंतमंदिरछोड़करचलागया।मंदिरसेजुड़ेश्रद्धालुओंकेमुताबिकमहंतकाअंगूठालगवानेकेबादएसडीएमऑफिसमेंफाइललगाईगईहै।

इसतरहकामामलामेरीजानकारीमेंआयाथा।मामलेकीजांचकीजारहीहै।यहमंदिरकीजमीनकोलेकरविवादकामामलाहै।दोनोंपक्षोंसेकागजातलानेकोकहागयाहै।

-वेदप्रकाश,निरीक्षक,शहरथाना।