जेएनएन,मालेरकोटला(संगरूर):

सरकारीकॉलेजमेंशहीदभगतसिंहकीविचारधारावमौजूदाशिक्षानीतिविषयपरसेमिनारकरवायागया।इसमेंपंजाबस्टूडेंट्सयूनियनकेपंजाबउपप्रधानअमनदीपसिंहमुख्यमेहमानकेतौरपरपहुंचे।उन्होंनेकहाकिआजकेराजनीतिकपार्टियांयुवावर्गकोलूटरहीहैं,शिक्षाकाव्यापारीकरणहोरहाहै,मोदीसरकारसिलेबसकोबदलकरमिथिहास(कल्पनाकीगईकहानी)सेजोड़नाचाहतीहै,ताकिआनेवालीनस्लकोउनकेइतिहासवसभ्याचारसेअलगकरभगवाकरणमेंशामिलकियाजासके।नईशिक्षानीतिकेमुताबिकदोहजारसेकमछात्रोंवालेकॉलेजकोबंदकरनेकीहिदायतकीगईहै,जोसीधेतौरपरछात्रोंकोशिक्षासेदूरकरउनकेभविष्यकोअंधेरेमेंझोंकनेजैसाहै।इसलिएनौजवानपीढ़ीकोअपनेहकोंकेलिएएकजुटहोकरशहीदभगतसिंहकेदिखाएगएक्रांतिकारीरास्तेपरचलनाहोगा,ताकिउनकाभविष्यकासुरक्षितरहसके।इसअवसरपरस्टेजसचिवकीभूमिकायूनियनकेजिलासचिवराजदीपमन्नवीनेनिभाई।इसमौकेपरयूनियनकेजिलाप्रधाननरिदरबुर्जकेअलावाकॉलेजकेहरविदरसिंह,मोहम्मदयासीन,सुहेलरूह,गंगासिंह,गुरकमलसिंह,हर्ष,प्रदीपकौर,सिमरन,रमनप्रीतकौरवमनिदरकौरकेअलावाछात्रउपस्थितथे।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!