मुजफ्फरपुर,जासं।एसकेएमसीएचपरिसरमेंअबकोरोनामरीजकीआरटीपीसीआरजांचकेलिएआधादर्जनमशीनेंकामकरनेलगेगी।इसकेलिएदोमशीनेंयूनिसेफकीओरसेपहुंचगईहैं।इसबीचएकमशीनकेखराबहोनेकेबादतत्कालनयानमूनालेनेपररोकलगादीगईहै।एसकेएमसीएचकेप्राचार्यडॉ.विकासकुमारनेबतायाकिअभीतीनमशीनोंसेजांचकियाजारहाहै।एकमशीनखराबहै।दोनईमशीनेंकोलगानेकाकामचलरहाहै।दोसेतीनदिनकेअंदरसारीमशीनकामकरनेलगेंगी।इसकेबादजांचमेंतेजीआएगी।अभीछहहजारजांचपेंडिंगहै।अभीप्रतिदिन2200सेतीनहजारकेबीचजांचकीजारहीहै।

ऑक्सीजनकीकमीहोगीदूर

प्राचार्यनेबतायाकिएसकेएमसीएचपरिसरमेंऑक्सीजनटैंकस्थापितकियाजारहाहै।इसकीक्षमता20टनकीहोगी।एकसप्ताहमेंयहतैयारहोजाएगा।इसकेबादपरिसरमेंपूराऑक्सीजनकाभंडाररहेगा।सेनाद्वारासंचालितडीआरडीओअस्पतालकासारासामानयहांपररखागयाहै।इसकाहीऑक्सीजनटैंकहै।अबइसकाउपयोगकियाजारहाहै।

पताहीमेंतत्कालचालूहोटेंटसिटीअस्पताल

मुजफ्फरपुर:कांटीविधायकइसराइलमंसूरीनेपताहीहवाईअडडापरिसरमेंतत्कालटेंटसिटीकोविडकेयरअस्पतालचालूकरनेकाआग्रहकियाहै।मुख्यमंत्रीनीतीशकुमारकोपत्रलिखकरकहाकिपीडि़तमानवताकीरक्षाकेलिएअविलंबअस्थायीअस्पतालचालूकियाजाए।बतायाकिपिछलेसालपताहीहवाईअड्डापरिसरमेंसेनाकीओरसेपांचसौबेडकाअस्पतालसंचालितहुआ।इससालफरवरीमेंजबअस्पतालबंदहुआतोसारासामानएसकेएमसीएचकोदेदियागया।वेंटिलेटर,बेडऑक्सीजनटैंक,फर्नीचरवगैरहसबएसकेएमसीएचमेंपड़ाहुआहै।वहांजोसंसाधनहैउससेतत्कालदोसेतीनसौबेडकाअस्पतालएकसप्ताहमेंबनकरतैयारहोसकताहै।उन्होंनेचिंताजतातेहुएकहाकिजिलेमेंकोरोनासंक्रमितमरीजोंकीसंख्यामेंहररोजवृद्धिहोरहीहै।मृत्युदरभीलगातारबढ़ताजारहाहै।अस्पतालचालूहोनेसेमुजफ्फरपुरकेसाथवैशाली,चंपारण,शिवहर,सीतामढ़ी,समस्तीपुरवपड़ोसीदेशनेपालकेमरीजोंकोलाभमिलेगा।इसकीजानकारीरक्षामंत्रालय,केंद्रीयवराज्यकेस्वास्थ्यमंत्रीऔरउनकेप्रधानसचिवकोभीदीहै।