संवादसूत्र,धारचूला:तहसीलक्षेत्रकाखोतिलाजलधारगांवपानीकीभीषणकिल्लतसेजूझरहाहै।गांवकीपेयजलयोजनापीएमजीएसवाईकीनिर्माणाधीनसड़ककीभेंटचढ़गई।मजबूरग्रामीणोंकोएककिमी.दूरसेपानीढोनापड़रहाहै।परेशानग्रामीणोंनेशुक्रवारकोतहसीलमुख्यालयपहुंचकरपेयजलकेलिएप्रदर्शनकिया।

प्रदर्शनकारियोंनेकहाकिगांवकेसमीपबनरहीपीएमजीएसवाईसड़ककेमलबेसेपेयजलयोजनाध्वस्तहोगईहै,जिससेगांवमेंपानीनहींपहुंचरहाहै।गांवमेंरहनेवाले70परिवारएककिलोमीटरदूरसेपानीढोरहेहैं।महिलाओंकापूरादिनपानीकेइंतजाममेंहीनिकलजारहाहै।गांवकेसभीपरिवारपशुपालकहैं,पानीनहींहोनेसेपशुपालनकरनामुश्किलहोगयाहै।कईबारमांगकरनेकेबादगांवकेलिएनईपेयजलयोजनाबिछानेकाकामशुरूकियागयाहै,लेकिननईयोजनापहलेसेकाफीछोटीहै,इससेगांवकीजरूरतपूरीहोनेकीउम्मीदनहींहै।नईयोजनाभीपीएमजीएसवाईसड़ककेसमीपसेहीबनाईजारहीहै।भविष्यमेंकभीभीसड़ककामलबागिरनेसेनईयोजनाभीक्षतिग्रस्तहोसकतीहै,इसकाखामियाजाग्रामीणोंकोभुगतनापड़ेगा।ग्रामीणोंनेमांगकीकियोजनामेंबड़ीक्षमताकीलाइनेंबिछाईजाएऔरपीएमजीएसवाईऔरजलमहकमाग्रामीणोंकोयोजनाकेभविष्यमेंक्षतिग्रस्तनहींहोनेकालिखितआश्वासनदे।ग्रामीणोंनेइसआशयकाज्ञापनएसडीएमकोसौंपा।प्रदर्शनकरनेवालोंमेंरेवतीदेवी,कलावतीदेवी,विक्रमसिंह,रोहित,नरेंद्रबहादुरआदिशामिलथे।